मांगों को लेकर कलेक्ट्रेट पर शिक्षकों का धरना आज

0
kalector

परवेज़ अख्तर/सिवान :- बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के राज्यव्यापी आह्वान पर आज जिला समाहरणालय पर अपनी मांगों को लेकर शिक्षक धरना प्रदर्शन करेंगे। इससे पूर्व शहर के गांधी मैदान से रैली निकाली जायगी जो जिला समाहरणालय के समीप पहुंचकर सभा में तब्दील होगी। जहां मुख्यमंत्री को संबोधित सात सूत्रीय ज्ञापन डीएम को सौंपा जाएगा। इस संदर्भ में जानकारी देते हुए समन्वय समिति के सदस्य रामप्रीत विद्यार्थी ने बताया कि इस मौके सभी शिक्षक साथी अपनी चट्टानी एकता का परिचय देंगे। शिक्षिकाएं भी इस मुहिम में शामिल होगी। शिक्षकों से आह्वान किया गया है कि धरना में शामिल होकर कार्यक्रम को ऐतिहासिक बनाया जाएगा। महासंघ के राजीव कुमार ने शिक्षकों से शांतिपूर्ण और अनुशासित होकर आंदोलन को सफल बनाने की अपील की है। बता दें कि समान काम समान वेतन की मांग को लेकर पूरे राज्य में शिक्षकों का प्रदर्शन लगातार जारी है। बता दें कि धरना प्रदर्शन का कार्यक्रम जिला समन्वयक ठाकुर प्रसाद यादव की अध्यक्षता में अपराह्न 1:30 बजे से 4:00 बजे तक संचालित किया जाएगा।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
ads

धरना प्रदर्शन में शिक्षक नेता राजीव कुमार रामप्रीत विद्यार्थी, अनिल कुमार, राजेश यादव, सुधीर कुमार शर्मा, राजीव रंजन तिवारी, अजय कुमार, महेश कुमार प्रभात, संतोष कुमार श्रीवास्तव, कुमार सौरभ, अभिषेक कुमार, रजनीश मिश्रा, वसी अहमद गौसी, विनोद कुमार सिंह, जयप्रकाश चौधरी, सरफराज अहमद, मनोज कुमार सिंह, अरविंद कुमार पांडेय, मो शाहिद आलम, अतीश कुमार, विनोद कुमार भगत, सुरेश यादव, अमर लाल चौधरी, सैयद अंसारी, सुरेश यादव, गौतम मांझी, राधेश्याम यादव, सतीश श्रीवास्तव, विभा श्रीवास्तव, जयप्रकाश गुप्ता समेत हजारों शिक्षक-शिक्षिकाएं शामिल होंगे।

सीएम को संबोधित सात सूत्रीश ज्ञापन सौंपेंगे

आज शिक्षक कलेक्ट्रेट पर धरना कर सीएम को संबोधित डीएम को ज्ञापन सौंपेंगे। जिसमें नियमित शिक्षकों के समतुल्य समान वेतन, समान सेवाशर्त, पुरानी पेंशन योजना, नियोजन इकाई के बाहर स्थानांतरण की सुविधा, बिना शर्त आश्रितों को अनुकंपा पर बहाली करने, वेतन विसंगति का त्वरित निष्पादन कर नवप्रशिक्षित शिक्षकों को लेबल व इंडेक्स के अनुरूप वेतन निर्धारण करने, परिवहन भत्ता देने, ग्रुप बीमा योजना व सामान्य भविष्य निधि योजना से अच्छादित मांगों का ज्ञापन सौंपा जाएगा।