माले नेता के बेटे की हत्या कर भाग रहे अपराधियों की रास्ते में बंद पड़ गई थी बाइक, CCTV फुटेज आया सामने

0

आरा: बिहार के भोजपुर जिले के नगर थाना क्षेत्र में बुधवार की शाम अपराधियों ने सीपीआई-एमएल (CPI-ML) के नेता गोपाल प्रसाद के बेटे की गोली मारकर हत्या कर दी थी. हत्या के बाद कोहराम मचा हुआ है. प्रदर्शन का सिलसिला जारी है. इसी क्रम में कल सदर अस्पताल के मेन गेट पर हुई हत्या में शामिल अपराधियों के भागने का सीसीटीवी फुटेज सामने आया है. फुटेज में साफ तौर पर देखा जा सकता है कि अपराधी घटना को अंजाम देकर मठिया मोड़ होते हुए नवादा इलाके की तरफ भाग रहे हैं. भागने के क्रम में अपराधियों की बाइक की पेट्रोल खत्म हो जाती है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
muskan buty

भागने के दौरान खत्म हुआ पेट्रोल

ऐसे में एक अपराधी बाइक को धक्का मारकर नवादा थाना क्षेत्र के मोती महल के सामने स्थित पेट्रोल पम्प पर पेट्रोल लेने पहुंचता दिख रहा है. अपराधियों द्वारा पेट्रोल पम्प पर तैनात नोजल मैन से जल्द पेट्रोल देने के लिए कहा जाता है. वहीं, पेट्रोल लेते ही अपराधी पेट्रोल पंप पर जैसे ही बाइक को चालू कर आगे बढ़ते हैं, इनकी बाइक स्किट कर जाती है. हालांकि, संभलते हुए अपराधी दोबारा बाइक चलाकर नवादा मोहल्ले की तरफ से भाग जाते हैं. इधर, पूरी घटना क्रम को पेट्रोल पम्प पर मौजूद लोग देखते रह जाते हैं.

पुलिस सूत्रों की मानें तो इस हत्याकांड में 10 लोग शामिल हैं. फिलहाल, पुलिस ने मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुए हत्याकांड में शामिल दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. बाकी अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी है. दावा है कि जल्द ही इस हत्याकांड का खुलासा कर लिए जाएगा.

हत्या के बाद जमकर हुआ हंगामा

माले नेता के बेटे की गोलियों से भूनकर अपराधियों द्वारा हत्या करने के बाद आक्रोशित परिजन और माले नेताओं के नेतृत्व में नगर थाना क्षेत्र के शिवगंज दुर्गा मंदिर के समीप शव को रखकर सड़क जाम कर दिया गया था. माले नेताओं की मांग है कि घटना में शामिल अपराधियों को जल्द गिरफ्तार किया जाए. साथ ही परिजनों को 10 लाख रुपए का मुआवजा, एक सरकारी नौकरी और नगर निगम से एक दुकान आवंटित कर सौंपी जाए. वहीं, जिला प्रशासन द्वारा मृतक के परिवार वालों को एक लाख रुपए श्रम विभाग और 20 हजार रुपए समाजिक सुरक्षा पेंशन राशि दिया गया. साथ ही ये भी आश्वासन दिया गया है कि मृतक के परिवार को एक दुकान भी मुहैया कराया जाएगा.

सरेशाम हुई थी नेता के बेटे की हत्या

मालूम हो कि बुधवार की शाम हथियारबंद अपराधियों द्वारा सदर अस्पताल के मेन गेट पर माले नेता के बेटे सह एंबुलेंस चालक विजय कुमार की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई थी. विजय अपने घर से अस्पताल स्थित चाय दुकान पर पहुंचे ही थे, तभी बाइक सवार अपराधियों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर उनकी हत्या कर दी. अपराधियों द्वारा भागने के क्रम में ट्रैफिक सिपाही पर भी फायरिंग की गई थी. फायरिंग की घटना में सिपाही बाल-बाल बचा था. घटना की सूचना पाकर भोजपुर एएसपी सदर एसडीपीओ हिमांशु,नगर थानाध्यक्ष शंभू कुमार भगत, नवादा थानाध्यक्ष अविनाश कुमार घटनास्थल पर पहुंचे थे और घटना का जायजा लिया था. वहीं, पुलिस ने मौके से चार जिंदा कारतूस एवं खोखा भी बरामद किया था.