मनचले ने बहन को छेड़ा तो भाई ने दोस्तों के साथ मिलकर मारी पांच गोलियां

0

पटना: पटना से सटे बाढ़ थाना के एनएच 31 (NH-31) पर यात्रियों से भरी ऑटो रोककर युवक सुमित शर्मा उर्फ गोलू की हत्या किए जाने के मामले का पुलिस ने खुलासा कर लिया है. गोलू की दिनदहाड़े पांच गोली मार कर हत्या कर दी गई थी. गोली चलता देख ऑटो ड्राइवर और दूसरे यात्री भी भाग खड़े हुए थे. इस दौरान घायल सुमित उर्फ गोलू को हॉस्पिटल ले जाया गया था पर तब तक उसकी मौत हो चुकी थी.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

इस हत्याकांड के बाद बाढ़ थाना में अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज हुआ जो पुलिस के लिए पहेली बन गई थी. बिना किसी नाम को लेकर ब्लाइंड केस को सुलझाना काफी मुश्किल हो रहा था. एएसपी अमरेन्द्र प्रताप सिंह के बाढ़ ज्वाइन करते अगले दिन इस हत्या ने कई सवाल खड़े किये थे. मामले के उदभेदन के लिए एएसपी ने एक टीम बनाई जिसमें बाढ़ थाना, मोकामा थाना, अथमलगोला थाना सहित कई थाने के पुलिसवाले शामिल किए गए.

वैज्ञानिक और त्वरित अनुसंधान करते हुए गठित टीम ने दिन रात दिन एक करते हुए तीन आरोपियों को पकड़ा. लगातार पूछताछ में गिरफ्तार अपराधियों ने पूरी घटना का सच उगल दिया और मामले का खुलासा हुआ.

छेड़खानी करने पर हुई थी हत्या

गिरफ्तार मुख्य आरोपी शिवम कुमार ने पुलिस को बताया कि घर की एक लड़की के साथ मृतक गोलू लगातार रास्ते में छेड़खानी करता था, साथ ही मोबाइल पर लगातर कॉल कर परेशान करता था. इसकी जानकारी मिलते ही शिवम कुमार ने अपने दो दोस्तों विकास और सूरज के साथ मिल कर रेकी करते हुए 13 सितम्बर को इस घटना को अंजाम दिया और दिनदहाड़े गोली मारकर युवक की हत्या करते हुए फरार हो गए.

मोबाइल, बाइक बरामद

इलाके के एएसपी अमरेन्द्र प्रताप सिंह ने बताया कि हत्या मामले में इस्तेमाल की गई बाइक और मोबाइल को भी बरामद किया गया है, साथ ही हथियार की तलाश पुलिस को अभी भी है. इस मामले के खुलासाेके बाद पुलिस चैन की सांस ले रही है. इस घटना को ले कर पुलिस पर लगातार दबाव बना हुआ था.