एक ही दुपट्टे से लटका मिला युवक-युवती का शव, मृतक के परिजनों ने लड़की के परिवार पर लगाया हत्या का आरोप

0

बेतिया: बिहार के पश्चिमी चंपारण जिले के बेतिया में मंगलवार को एक साथ दो शव मिलने से सनसनी फैल गई. घटना जिला मुख्यालय के बैरिया पखनाहा के डुमरिया नाया टोला की है, जहां सरेह में शीशम के पेड़ से युवती और युवक का शव एक ही दुपट्टे से लटका हुआ बरामद किया गया है. घटना की सूचना मिलते ही स्थानीय थाना के प्रभारी थानाध्यक्ष मनोज कुमार सिंह और दारोगा राजेन्द्र राम पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और शवों को पेड़ से नीचे उतारा.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

पूरे मामले की जांच में जुटी पुलिस

वहीं, प्रभारी थानाध्यक्ष मनोज कुमार सिंह ने बताया कि अभी यह स्पष्ट नहीं हो रहा है कि ये आत्महत्या है या हत्या. पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है. मृतक युवक की पहचान डुमरिया निवासी राजेश पटेल के 20 वर्षीय बेटे रविकिशन कुमार रूप में की गई है. जबकि मृतका कोईरपट्टी डुमरिया निवासी हीरा महतो की बेटी अंशु कुमारी है. लोगों ने बताया कि अंशु कुमारी का परिवार पहले सूर्यपुर में रहता था. हाल ही में वे कोईरपट्टी डुमरिया में बसे हैं.

मिली जानकारी के अनुसार मृतक युवक-युवती का घर एक-दूसरे के घर से महज एक किमी की दूरी पर स्थित है. वहीं, जिस पेड़ से दोनों का लटका हुआ शव बरामद किया गया है, वो युवती के घर से महज 50 मीटर की दूरी पर है. घटना के संबंध में सूर्यपुर पंचायत के मुखिया इस्लाम गद्दी ने कहना है कि ये आत्महत्या नहीं हत्या का मामला है, क्योंकि युवती उनके पंचायत की है, जिसका परिवार हाल ही में गांव में रहने आया है. मुखिया का दावा है कि युवती के परिजनों ने ही हत्या की घटना को अंजाम दिया है.

दोनों के बीच चल रहा था प्रेम प्रसंग

ग्रामीणों ने बताया कि कुछ महीनों से दोनों के बीच प्रेम प्रसंग चल रहा था. इस बात के सामने आने पर युवती के परिजनों ने उसकी पढ़ाई-लिखाई छुड़ाकर उसे घर में बैठा दिया था. मुखिया ने बताया कि कई बार शादी कराने की बात करने युवक के परिजन युवती के घर गए, लेकिन घरवाले नहीं माने. इधर, पाबंदियों के बावजूद दोनों प्रेमी मिलते रहे. ये बात युवती के परिजनों को नागवार गुजरी, ऐसे में उन्होंने इस घटना को अंजाम दिया. ग्रामीणों और पुलिस को आशंका है कि पूरा मामला ऑनर किलिंग का है.

देहरादून में रहकर काम करता था युवक

मृतक के परिजनों का कहना है कि युवक का युवती से कोई लेना देना नहीं है. वो देहरादून में रह कर बिजली मिस्त्री का काम करता था और डेढ़ साल बाद तीन दिन पहले अपने घर आया था. मंगलवार की देर रात वो आर्केस्टा देखने निकला था, जिसके बाद वो घर नहीं लौटा. बुधवार की सुबह परिजनों को व्हाट्सएप के माध्यम से पता चला कि उसका शव पेड़ से लटका हुआ है. युवक के परिजनों ने लड़की के परिजनों पर आरोप लगाया है कि षड्यंत्र के तहत हत्या कर शव को पेड़ से लटकाया गया है.

फिलहाल इस मामले में युवती के पिता को पुलिस ने हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है. पुलिस कई एंगल से मामले की जांच करने में जुटी हुई है. शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जीएमसीएच भेज दिया गया है.