तरवारा के जलालपुर गांव स्तिथ एक सुर्खीनुमा मकान पर आकाशीय बिजली गिरने से मकान ध्वस्त

0
  • गर्जन के साथ जोरदार आवाज से सहम उठे ग्रामीण
  • सूचना देने के बावजूद भी नहीं पहुंचा अंचल या प्रखंड प्रशासन
  • दूसरी बार के धमाका से हुई उक्त घटना

परवेज अख्तर/सिवान:
सिवान जिले के महाराजगंज प्रखंड के जलालपुर गांव के एक सुर्खीनुमा मकान पर मंगलवार की दोपहर आकाशीय बिजली गिरने से मकान ध्वस्त हो गया।इस दौरान गर्जन के साथ जोरदार आवाज से ग्रामीण भी सहम उठे।संजोग कहिए की पहली धमाका का आवाज सुनकर सुर्खीनुमा मकान में रहने वाले परिवार के सभी सदस्य अपने पड़ोस में चले गए थे नहीं तो हो जाती बड़ी घटना।घटना के संबंध में बताया जाता है कि मंगलवार की दोपहर अचानक आसमान में बादल छा गए और हल्की बारिश भी शुरू हो गई। इसी बीच तेज गर्जन के साथ आकाशीय बिजली गांव के ओम प्रकाश गौतम के सुर्खीनुमा मकान पर आ गिरी।जिससे छत की दीवारें दो भागों में बटते हुए ध्वस्त हो गया।घटना के दौरान आसपास के लोग भी सहम उठे। बारिश समाप्ति के बाद ग्रामीणों का हुजूम ध्वस्त मकान को देखने के लिए घटनास्थल पर उमड़ पड़ा।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

यहां बताते चलें कि जलालपुर गांव निवासी ओम प्रकाश गौतम अपने पूरे परिवार के साथ सुर्खियों में मकान में रहते हैं।जो आकाशीय बिजली गिरने से ध्वस्त हो चुका है। पहली बार हुई जोरदार धमाका से डर के मारे घर के सभी सदस्य अपने पड़ोस में चले गए थे तब तक दूसरी बार जोरदार धमाका के बाद यह घटना घटित हुई।पीड़ित ओमप्रकाश गौतम ने बताया कि इस बरसात के मौसम में हम लोगों का मकान आकाशीय बिजली गिरने के कारण ध्वस्त हो जाने के कारण रहने के लिए काफी कठिनाई हो रही है।

dhvastt makan

उन्होंने बताया कि इस ध्वस्त मकान में मेरे पिताजी स्वामीनाथ सिंह,माता सुदामा देवी,पत्नी रिंकू देवी पुत्र रमन गौतम पुत्री बंदना गौतम के साथ रहते हैं। उक्त घटना के बाद से हम सभी को रहने के लिए काफी कठिनाई हो रही है। उन्होंने बताया कि इसकी सूचना महाराजगंज अंचल प्रशासन तथा प्रखंड प्रशासन को दी गई।लेकिन अभी तक न अंचल प्रशासन और न ही प्रखंड प्रशासन देखने तक नहीं आया।