जिसकी गोद में पले-बढ़े, उसी ने उतारा संजय को मौत के घाट

0
sanjay ki maut

परवेज अख्तर/सिवान:- जीरादेई प्रखंड के गड़ार में रालोसपा उपेंद्र गुट के जिलाध्यक्ष संजय साह की चाकू गोद कर निर्मम हत्या के बार पूरा गांव मातम में डूबा पड़ा है। हर किसी के जुबान पर बस एक ही बात है कि जिस आंगन में और जिसकी गोद में पल बढ़ कर संजय बढ़ा हुआ। जिसे बचपन से पिता की तरह समझ कर गोद में लिपटता रहा उसने कैसे अपने बेटों के साथ मिलकर उसकी हत्या कर दी। बता दें कि घर के पास भगवान शंकर के मंदिर समीप ही संजय की हत्या की गई।

रिटायरमेंट के पैसे पर थी हत्यारों की बुरी नजर

मिली जानकारी के अनुसार मृतक संजय के पिता जयप्रकाश प्रसाद मई माह के अंतिम सप्ताह में पुलिस की नौकरी से रिटायर हुए थे। उसी रिटायरमेंट के पैसे को हड़पने के लिए उनके पट्टीदारों की बुरी नजर थी, क्योंकि अपने नौकरी के कार्यकाल में जयप्रकाश प्रसाद ने पूरे परिवार का खर्च चलाया था, लेकिन अवकाश प्राप्त के बाद उन्होंने एक अलग घर बनवाकर सुखमय जीवन यापन के लिए गांव से अलग निकल बनवा रहे थे। शनिवार की शाम जयप्रकाश अपने निर्माणाधीन मकान से आ रहे थे लेकिन इसी बीच विवाद होने के बाद बीच बचाव करने गए संजय को लोगों ने पकड़ कर मारपीट के बाद चाकू गोद कर मौत के घाट उतार दिया।

प्रतिमा का रोते-रोते बुरा हाल

बेसुध पड़ी प्रतिमा बार बार यही कर रही थी कि मेरा क्या कसूर था। मेरे पति संजय ने मुझे जिंदगी के उस दहलीज पर ले जाकर खड़ा कर दिया जहां मेरी रिमझिम आंखों के आंसू ही सूख गए। बेटा उपकार कुमार, ओमजी कुमार एवं पुत्री वंदना कुमारी का रोते-रोते बुरा हाल हो गया है।

रविवार की दोपहर मृतक संजय गुप्ता का दाह संस्कार गड़ार गांव के ही घाट पर किया गया

मृतक का बड़ा पुत्र उपकार कुमार (6) ने अपने पिता को मुखाग्नि दी। इस दौरान रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा, जीरादेई विधायक रमेश सिंह कुशवाहा, जिला परिषद अध्यक्ष संगीता यादव,जदयू जिलाध्यक्ष इंद्रदेव सिंह पटेल, मुखिया मनोज सिंह, नागेंद्र सिंह, मोहन राजभ, मुर्तजा अली कैसर, युवा रालोसपा जिलालध्यक्ष ओमप्रकाश कुशवाहा, सांसद पुत्र हैप्पी यादव, विनोद तिवारी, रमाकांत पाठक, श्रीनिवास यादव सहित काफी संख्या में जनप्रतिनिधि एवं ग्रामीण उपस्थित थे।

केंद्रीय मंत्री घाट पर पहुंच मृतक को दी श्रद्धांजलि

जिलाध्यक्ष संजय गुप्ता की मौत की खबर सुनकर रालोसपा पार्टी के नेता केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने रविवार को घाट पर पहुंचकर मृतक को श्रद्धांजलि दी। इस दौरान उन्होंने कहा कि इस हत्या से सभी लोग मर्माहत हैं। घटना की निंदा करते हुए मृतक के परिजनों को पार्टी की तरफ से पांच लाख रुपया देने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि बिहार सरकार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मृतक के परिवार के लिए उचित मुआवजे की मांग करेंगे। पार्टी की तरफ से बच्चों के शिक्षा-दीक्षा पालन-पोषण की भी व्यवस्था की जाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि डीएम एवं एसपी से हमारी बात हो चुकी है। उन्होंने कहा कि इस घटना का अंजाम देने वाले हत्यारों की शीघ्र गिरफ्तारी होगी और उन्हें जेल की हवा खानी पड़ेगी। उन्होंने मृतक के पिता, भाई को भी ढाढ़स बंधाया।

विधि व्यवस्थ्या के लिए थाना रहा अलर्ट

रालोसपा पार्टी के जिलाध्यक्ष मृतक संजय गुप्ता की हत्या के बाद उनके गांव गड़ार में सैकड़ों की संख्या में भीड़ उमड़ पड़ी थी। वहीं केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा के आने की खबर को लेकर एसपी नवीनचंद्र झा ने थानों को तैनात किया था। विधि-व्यवस्था कायम करने के लिए हुसैनगंज थानाध्यक्ष अरुण कुमार सिंह, आंदर थाना के पुअनि अरविंद कुमार सहित अन्य पुलिस बल उपस्थित थे।

हत्या के बाद सभी घर छोड़कर फरार

रालोसपा जिलाध्यक्ष संजय गुप्ता की हत्या के बाद गिरफ्तारी के डर से सभी हत्यारे घर छोड़कर फरार हो चुके हैं। परिजनों ने बताया कि शनिवार की रात एएसपी ने घटनास्थल पर पहुंचकर घटना की जांच की है।