रघुनाथपुर बाजार में दिनदहाड़े लूट की यह पहली घटना

0
  • एसडीपीओ के मौके पर पहुंचने के दौरान बाजार के व्यवसायियों ने स्थानीय पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए विरोध जताया
  • लूट की घटना को लेकर बाजार के व्यवसायियों में गुस्सा
  • घटना की वजह पुलिस की नाकामी मान रहे हैं व्यवसायी
  • 35 साल पहले पतार बाजार में हुई थी बैंक लूट की घटना

परवेज अख्तर/सिवान: रघुनाथपुर बाजार में दिनदहाड़े हुई 40 लाख से अधिक की ज्वेलरी की लूट की घटना के बाद से बाजार में अफरातफरी का माहौल कायम हो गया है। कहा जा रहा है कि इस बाजार में दिनदहाड़े लूट की यह पहली घटना है। इससे पहले रघुनाथपुर थाना क्षेत्र के पतार बाजार में बैंक लूट की एक घटना हुई थी। जो करीब 35 साल पहले घटित हुई थी। गांव-जवार के लोगों का कहना है कि इस घटना ने पतार बाजार स्थित एसबीआई ब्रांच में हुई लूट की घटना की याद दिला दी है। बहरहाल, रघुनाथपुर बाजार में ज्वेलरी की बड़ी दुकानों में से एक ज्योति अलंकार ज्वेलर्स में हुई लूट की इस घटना में शामिल सभी 6 अपराधियों की धड़पकड़ में पुलिस जुट गयी है। घटना की जानकारी मिलने के बाद एसडीपीओ जीतेन्द्र पांडेय मौके पर पहुंचकर मामले की जांच में जूट गए हैं। हालांकि, एसडीपीओ के मौके पर पहुंचने के दौरान बाजार के व्यवसायियों ने स्थानीय पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए इसका विरोध जताया। लेकिन, एसडीपीओ ने बाजार के व्यवसायियों से काम करने देने का आग्रह करते हुए उन्हें शांत रहने को कहा। इसके बाद आसपास के लोगों और पीड़ित दुकानदार से उन्होंने घटना के संबंध में जानकारी ली।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
metra hospital

शोर-शराबा के बाद दूसरों को हुई जानकारी

बाजार के लोगों के अनुसार लूट की घटना को अंजाम देने के दौरान एक-दो अपराधी दुकान के बाहर खड़े थे। जबकि एक दुकानदार के सिर के ऊपर में पिस्टल ताने हुए था। बाकी के अपराधी दुकान के अंदर घुसकर सोने-चांदी के जेवर बटोर रहे थे। दुकान में गहने लेने पहुंची महिलाओं को भी बंधक बनाए रखा। दुकान के बाहर बाइक खड़ी होने के चलते पड़ोसी दुकानदार ग्राहक समझ रहे थे। किसी को इस बात का जरा भी अंदेशा नहीं था कि दुकान में घुसने वाले ग्राहक नहीं बल्कि अपराधी हैं। प्रतिदिन इस दुकान पर दर्जनों की संख्या में ग्राहक सोने-चांदी के गहने खरीदने पहुंचते हैं।

गमछा और मफलर से मुंह बांधे थे सभी

ज्योति अलंकार ज्वेलर्स में लूट की घटना को अंजाम देने आए सभी अपराधी गमछा या मफलर से चेहरा ढ़के या मुंह बांधे हुए थे। अपराधियों के लूट की घटना को अंजाम देने के बाद भागने की घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। जिसमें एक अपराधी अपने साथी अपराधी से बाइक जल्दी से घुमाने की बात कह रहा है। वायरल वीडियो में अपराधी प्लास्टिक की बोरी में गहने के बॉक्स और थैले भरे हुए दिख रहे हैं। हालांकि, इस वायरल वीडियो में दो बाइक और चार अपराधी ही नजर आ रहे हैं। इस वीडियो में दुकानदार के रोने-चिल्लाने की आवाज भी सुनाई दे रही है।