साजिश रच कर मेरे पूरे परिवार व रिश्तेदारों पर किया गया मुकदमा : तेजस्वी

0
tezasvi

परवेज अख्तर/सिवान : देश के अंतिम पायदान पर बैठे लोगों के न्याय के लिए बाबा साहेब ने भेदभाव से हटकर संविधान बनाया था। इसलिए आरक्षण हटाकर आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत व पीएम नरेंद्र मोदी संविधान खत्म करना चाहते हैं। जब संविधान खत्म हो जाएगा तो आॅटोमैटिक मनुवादी विचार धारा लागू हो जाएगी। यह बातें पूर्व उप मुख्यमंत्री सह राजद नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने शहर के गांधी मैदान में आयोजित संविधान बचाओ न्याय यात्रा के दौरान सोमवार को कही। कहा कि नागपुरिया कानून काशी विश्वनाथ के लिए बनाया गया था। जो दलितों को मंदिर में जाने पर लागू होता है। कहा कि बीजेपी के लोग व मोदी जानते हैं कि लालू बाहर रहेंगे तो किसी माई के लाल की हिम्मत नहीं है कि संविधान को बदल दे। इसलिए साजिश के तहत उन्हें जेल में डाल दिया गया। जेल में डाल तो दिया लेकिन लोगों के दिलों से कैसे निकालोगे। जब लालू जी इससे भी नहीं डरे तो एक साजिश रचकर बीजेपी ने मेरे पिता, मां, भाई, बहन, जीजा सहित रिश्तेदारों पर मुकदमा करा दिया। लालू जी को जेल से कोई डर नहीं, हमारे पिता तो शेर हैं। अपना संबोधन शुरू करने से पहले अपने साथ-साथ पिता लालू प्रसाद की ओर से सभी समर्थकों को प्रणाम किया। राजद प्रदेश अध्यक्ष डा. रामचंद्र पूर्वे, पूर्व मंत्री आलोक कुमार मेहता, पूर्व मंत्री शिवचंद्र राम, विधायक मुनेश्वर चौधरी, बिहार विधान परिषद सभापति सलीम परवेज, दलित प्रकोष्ट के अध्यक्ष साधु पासवान, पूर्व मंत्री अवध बिहारी चौधरी, लोकसभा की पूर्व प्रत्याशी सह राजद नेता हिना शहाब, रघुनाथपुर विधायक हरिशंकर यादव, सत्यदेव सिंह, विधायक अनवर आलम, पूर्व मंत्री इंद्रदेव प्रसाद, विक्रम कुंवर, मानिकचंद्र राय, विधायक अख्तरूल इस्लाम शाहिन, राजद जिलाध्यक्ष परमात्मा राम, महमूद हसन अंसारी, पूर्व जिला परिषद अध्यक्ष लीलावती गिरी, पूर्व नगर परिषद अध्यक्ष कृष्णा देवी, रणधीर सिंह, रेणू यादव, सीमा चौधरी, जिला प्रवक्ता उमेश कुमार, अजय भास्कर चौहान, एश्तेशामुल हक सिद्दीकी समेत भारी संख्या में राजद नेता व कार्यकर्ता मौजूद थे।tejasvi yadav

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

सेल्फी लेने को ले समर्थकों में लगी होड़, मची अफरातफरी

तेजस्वी यादव के मंच पर पहुंचते ही लोगों की भीड़ बैरिकेडिंग तोड़कर मंच के पास पहुंच गई। इस दौरान सभा स्थल के पास अफरातफरी का माहौल कायम हो गया था। लोगों की भीड़ इतनी थी की तेजस्वी के सामने ही अनियंत्रित हो गई। इसके बाद गांधी मैदान में भगदड़ की स्थिति पैदा हो गई। वहीं महिला पुलिसकर्मियों द्वारा भीड़ को नियंत्रित किया जा रहा था, पर महिला पुलिसकर्मियों की कौन सुने। समर्थकों ने अपने लोकप्रिय नेता को देखने व उनके साथ सेल्फी लेने के लिए मंच के करीब पहुंच गए थे।

सांप्रदायिकता एवं मनुवादियों से समझौता नहीं

तेजस्वी ने कहा कि सांप्रदायिकता व मनुवादियों से कभी समझौता नहीं करेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व संघ परिवार पर हमला बोलते हुए कहा कि ये लोग देश को तोड़ना चाह रहे हैं। इन लोगों के मकसद को कामयाब नहीं होने देना है। नीतीश कुमार का नाम लेते हुए तेजस्वी ने कहा कि मेरे चाचा कहते थे कि मिट्‌टी में मिल जाएंगे परंतु भाजपा से समझौता नहीं करेंगे, परंतु जनादेश के साथ डकैती कर के वे भाजपा की गोद में चले गए।tejasvi and hina saheb