भारी मात्रा में गांजा के साथ अंतरराज्यीय तस्कर समेत दो गिरफ्तार

0

बक्सर: पुलिस को मिली गुप्त सूचना पर औद्योगिक पुलिस को भारी मात्रा में तस्करी की गांजा के साथ दो तस्करों को गिरफ्तार करने में बड़ी सफलता मिली है। गिरफ्तार तस्करों में से एक अंतर्राज्यीय तस्कर भी शामिल है, जिसका कार्यक्षेत्र यूपी समेत कई राज्यों में फैला है। पुलिस को यह सफलता थाना क्षेत्र के कतकौली स्थित एक बंद पड़े मकान से मिली है। पुलिस के अनुसार बरामद गांजा की अंतर्राष्ट्रीय बजार में पांच लाख से अधिक कीमत आंकी जा रही है। इस संबंध में प्रेस को जानकारी देते पुलिस अधीक्षक नीरज कुमार सिंह ने बताया कि उन्हें इस संबंध में गुप्त सूचना प्राप्त हुई थी कि कतकौली स्थित एक मकान से बड़े पैमाने पर गांजा का कारोबार संचालित हो रहा है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 9.29.39 PM

सूचना के आलोक में सदर डीएसपी गोरख राम के नेतृत्व में टीम का गठन करने के साथ ही पहले सूचना की पुष्टि की गई। इसके बाद दंडाधिकारी की मौजूदगी में औद्योगिक थानाध्यक्ष मुकेश कुमार के नेतृत्व में छापेमारी की गई। छापेमारी के दौरान कतकौली स्थित मझरियां के संतोष सिंह के मकान के नीचे बने तहखाना से प्लास्टिक की बोरियों में पैक भारी मात्रा में अवैध गांजा बरामद किया गया, जिसका वजन करने पर कुल 66.5 किलो पाया गया। इस मामले में गृहस्वामी संतोष सिंह को हिरासत में लेते हुए जब पूछताछ की गई तब उन्होंने बताया कि अंतर्राज्यीय तस्कर मझरियां निवासी पृथ्वी सिंह उर्फ रून्नू सिंह द्वारा गांजा की आपूर्ति की जाती है।

संतोष सिंह ने यह भी बताया कि तस्करी का गांजा लाने के लिए रून्नू सिंह ने अपनी इनोवा कार के नीचे तहखाना बना रखा है और उसी में छिपाकर वो यहां गांजा लाते हैं। तस्कर से मिली सूचना के आलोक में रून्नू सिंह को उसकी तहखाना युक्त कार के साथ उसके घर मझरियां से पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। एसपी ने बताया कि इस मामले में एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज कर दोनों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। बरामद अन्य वस्तुएंएसपी ने बताया कि संतोष सिंह के घर की गई छापेमारी में मौके से 66.5 किलो गांजा के अलावा कांटा, तराजू, छोटा इलेक्ट्रानिक तराजू, गांजा रखने के लिए स्टील का दो बड़ा बक्सा, तीन मोबाइल तथा एक इनोवा कार बरामद की गई है। गिरफ्तार रून्नू सिंह का आपराधिक इतिहास

एसपी ने बताया कि रून्नू सिंह के खिलाफ इसके पूर्व 2019 में ही मद्य निषेध और उत्पाद अधिनियम के अलावा आ‌र्म्स एक्ट तथा जानलेवा हमला करने के कुल चार मामले दर्ज हैं। इसके अलावा यूपी के चंदौली में भी रून्नू सिंह के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज है। तब चंदौली में करीब एक करोड़ का गांजा यूपी पुलिस ने जब्त किया था। लेकिन, रून्नू सिंह यूपी पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ सका था। इस संबंध में अन्य श्रोतों से मिली जानकारी के अनुसार रून्नू सिंह का अन्य प्रदेशों तथा राज्य के दूसरे जिलों में भी बेरोक-टोक गांजा का कारोबार चल रहा था। गिरफ्तारी टीम में शामिल

एसपी ने बताया कि इस अभियान के लिए सदर डीएसपी गोरख राम के नेतृत्व में पुलिस टीम का गठन किया गया था, जिसमें दंडाधिकारी के रूप में प्रखंड विकास पदाधिकारी दीपचंद जोशी भी शामिल थे। इनके अलावा पुलिस की छापेमारी टीम में अंचल निरीक्षक मुकेश कुमार, औद्योगिक थानाध्यक्ष मुकेश कुमार, डीआइयू प्रभारी आलोक कुमार, डीआइयू के एसआई राहुल कुमार तथा थाना एवं उीआइयू टीम के जवान शामिल थे।