गोरखपुर में हुई 22 लाख लूट मामले का मुख्य आरोपी सहित दो सीवान से गिरफ्तार

0
  • यूनीमनी में हुई लूट मामले में भी अपराधियों की संलिप्तता
  • हथियार और करेंसी के साथ दोनों अपराधियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार
  • गिरफ्तार अपराधियों में जी.बी. नगर थाने की उसरी गांव निवासी बबलू मियां तथा धनौती ओपी थाना क्षेत्र के धनौती गांव निवासी लड्डन मियां है शामिल

परवेज़ अख्तर/सीवान:
नगर थाना क्षेत्र के रामनगर चीनी मिल के समीप से गोरखपुर कैंट थाना क्षेत्र के सीघड़ी में हुई 22 लाख लूट मामले और बीते शुक्रवार को हुई यूनीमानी बैंक में लूट में शामिल अपराधियों को पुलिस ने लोडेड पिस्टल के साथ गिरफ्तार कर लिया. बताते चलें कि बीते नवंबर महीने में गोरखपुर कैंट थाना क्षेत्र के सिघड़ी गांव के समीप एक विदेश भेजने वाले एजेंट से दो बाइक पर सवार चार अपराधियों ने 22 लाख लूट लिया था.जिसमें तीन अपराधियों को पुलिस ने गोरखपुर से ही गिरफ्तार कर जेल भेज दिया.लेकिन लूट के मुख्य आरोपी वहां से फरार हो गया जो सिवान का रहने वाला था.उत्तर प्रदेश पुलिस बीते 14 दिसंबर को सिवान पहुंची और मुफस्सिल थाना के सहयोग से धनौती ओपी क्षेत्र के धनौती गांव में आरोपी घर छापेमारी की लेकिन आरोपी  फरार पाया गया.जिसके बाद से ही स्थानीय पुलिस अपराधी की तलाश में जुटी थी.वही नगर थाना पुलिस ने रामनगर चीनी मिल के समीप से दो अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया दोनों अपराधी की पहचान धनौती गांव निवासी गफार मियां का पुत्र लड्डन मियां उर्फ रहमत अली और उसका साथी जी.बी.नगर थाना क्षेत्र के उसरी निवासी अली हुसैन का पुत्र बबलू मियां है.इधर पुलिस अन्य मामले की जांच में जुटी हुई है और गिरफ्तार अपराधियों से पूछताछ कर रही है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
muskan buty

giraftar 3

यूनीमनी लूट मामले में भी अपराधियों की थी संलिप्तता

बीते 11 दिसंबर को दिनदहाड़े राजेंद्र पथ स्थित यूनी मनी एक्सचेंज में अपराधियों ने हथियार के बल पर तकरीबन 10 लाख की लूट कर ली थी. जिसमें छः अपराधी शामिल थे. बताते चलें कि लूट के बाद अपराधी आराम से व्यवसाई की तरह फरार हो गए थे.जिसके बाद पुलिस अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रहे थे लेकिन अपराध पुलिस के गिरफ्त से बाहर थे.इधर बुधवार की संध्या पुलिस ने रामनगर स्थित चीनी मिल के समीप से गश्ती के दौरान पिस्टल व विदेशी करेंसी के साथ दो अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया.जिसके बाद रात भर दोनों अपराधियों से पूछताछ की गई.नगर इंस्पेक्टर जयप्रकाश पंडित ने बताया कि गिरफ्तार अपराधियों की यूनिमनी में हुई लूट मामले में संलिप्तता है.अब लूट में शामिल अन्य अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए पूछताछ की जा रही है और जल्द ही अन्य अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा.उन्होंने यह भी बताया कि अपराधियों के पास से एक देशी पिस्टल, एक जिंदा गोली और 10 अदद 100 का रियाल बरामद की गई है.

शाखा प्रबंधक से अपराधियों की पहचान

पिस्टल के साथ अपराधियों की गिरफ्तारी के बाद यूनीमानी के शाखा प्रबंधक नवीन कुमार से पुलिस ने थाने बुलाकर गिरफ्तार अपराधियों की पहचान कराई.