जहां पढ़ाई ही नहीं, वहां से ले आए थे सर्टिफिकेट….96 अमीन सेवा से बर्खास्त…..

0

पटना: राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग में बड़ी संख्या में फर्जी अमीन की बहाली हुई थी। अभ्यर्थियों ने फर्जी प्रमाण पत्र पर बहाली में सफल हो गये थे। विभाग ने जब प्रमाण-पत्र का सत्यापन कराया तो 96 संविदा पर बहाल अमीन के प्रमाण पत्र फर्जी पाये गये। इसके बाद भू-अभिलेख एवं परिमाप निदेशालय ने सभी 96 अमीनों को बर्खास्त कर दिया है। ये सभी अमीन विशेष सर्वेक्षण से जुड़े थे।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग ने बताया है कि 96 संविदा अमीन की सेवा को समाप्त कर दी गई है। भू-अभिलेख और परिमाप निदेशालय ने इन सभी फर्जी अमीनों को सेवा से हटा दिया है। विभाग को जब शंका हुआ तो सभी के प्रमाण पत्र जांच के लिए संबंधित संस्थान में भेजा गया। संस्थान ने जांच कर रिपोर्ट दिया जिसमें फर्जी बताया गया। इसके बाद विभाग ने सख्त कार्रवाई करते हुए 96 अमीनों को सेवा से हटा दिया है।

राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग के अधीन परिमाप निदेशालय ने इस संबंध में 14 दिसंबर को आदेश जारी किया है। विभाग के बताया कि 22 जुलाई 2021 को अमीनों के बी-टेक/डिप्लोमा इंजीनियरिंग प्रमाण पत्र की जांच के लिए बुंदेलखंड विवि के कुलसचिव को सत्यापन के लिए भेजा गया। विवि ने इसके जवाब में बताया कि बुंदेलखंड विवि झांसी में डिप्लोमा इन सिविल इंजीयरिंग का पाठ्यक्रम नहीं है। जबकि 96 अभ्यर्थियों ने इसी संस्थान का प्रमाण पत्र पर नौकरी ली थी। विवि से जवाब आने के बाद विभाग ने सभी से स्पष्टीकरण की मांग कर सेवा से बर्खास्त कर दिया।