बिहार के 20 शिक्षक होंगे राजकीय पुरस्कार से सम्मानित

0

पटना: बिहार के शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने आज बताया कि राज्य के 20 शिक्षकों को राजकीय शिक्षक पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। श्री चौधरी ने यहां बताया कि 5 सितंबर को शिक्षक दिवस के अवसर पर राज्य सरकार की ओर से 20 शिक्षकों को राजकीय शिक्षक पुरस्कार, 2021 से सम्मानित किया जायगा। पूर्व में राज्य के दो अन्य शिक्षक हरिदास शमार् एवं श्रीमती चंदना दत्त का चयन राष्ट्रीय पुरस्कार, 2021 के लिए भी हो चुका है। उन्होंने इन सभी चयनित शिक्षकों को राज्य सरकार की ओर से बधाई एवं शुभकामनाएं दी हैं।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 9.29.39 PM

मंत्री ने बताया कि इस तरह के पुरस्कारों से सकारात्मक एवं प्रेरणादायी माहौल बनता है तथा दूसरे शिक्षक भी उत्साहित होकर अपना बेहतर देने को प्रेरित होते हैं। राजकीय शिक्षक पुरस्कार के लिए चयनित शिक्षकों को राज्य सरकार की ओर से प्रशस्ति-पत्र के अलावा 15000 रुपये की राशि भी पुरस्कारस्वरूप दी जाती है।

पुरस्कार के चयन के लिए शिक्षकों की अनुशंसा जिला स्तरीय समिति द्वारा की जाती है। राष्ट्रीय एवं राज्य स्तर पर इन अनुशंसित शिक्षकों का मूल्यांकन 11 मापदंडों के आधार पर किया जाता है। इस मूल्यांकन में शिक्षकों के चारित्रिकी, प्रशिक्षण, शैक्षणिक कायोर्ं में अभिरूचि, अभिनव प्रयोग सह पाठ्यक्रम गतिविधियों तथा बच्चों में सामाजिक जागरूकता लाने आदि मानकों के आधार पर गौर किया जाता है।

पुरस्कृत होने वाले शिक्षकों में निशि कुमारी, धनंजय आचार्य, कुमारी विभा, जितेन्द्र कुमार सिन्हा, कंचन कामिनी, मनोज कुमार निराला, नसीम अख्तर, राम एकवाल राम, अमित कुमार, शिवनारायण मिश्रा, प्रमोद कुमार, राजीव कुमार पाठक, शशिभूषण शाही, नम्रता मिश्रा, पूनम यादव, सुनीता सिन्हा, भारती रंजन, श्रुति कुमारी, विभा रानी एवं मंजू कुमारी शामिल हैं।