…और सुल्ताना के हाथों से राइफल छीन बिट्टू ने चलाई थी गोली

0

[sg_popup id=”5″ event=”onload”][/sg_popup]राइफल जब्ती को लेकर पुलिस ने भेजा नोट‍िस

घटना: चांदपाली गांव का

परवेज अख्‍तर/सीवान:- जिले के जीरादेई थाना क्षेत्र के चांदपाली गांव में 16 अप्रैल को हुई फायरिंग के मामले में पुलिस ने अपनी जांच तेज करते हुए बिट्टू के पिता को नोटिस भेजकर राइफल थाने में जमा करने का आदेश दिया है। नोटिस को तामिला बुधवार को कराया गया। यह कार्रवाई एसपी नवीन चंद्र झा के निर्देश के आलोक में जीरादेई थानाध्यक्ष सुनील कुमार शर्मा द्वारा की गई है। मामले में बताया जाता है कि पुलिस बुधवार को ही बिट्टू के पिता मो. इशा को नोटिस रिसीव करा राइफल जल्द से जल्द थाने में सिपुर्द करने का आदेश दिया। सूचना यह थी कि मो. इशा राइफल को थाने में जमा करने की तैयारी में जुट गए हैं और गुरुवार तक इसे जमा भी कर देंगे। सूचना यह भी है कि राइफल जैसे ही थाने में जमा होगा पुलिस उसे जब्त कर जांच को भेज देगी। इधर नोटिस मिलते ही मो. इशा के चेहरे पर सिकन देखने को मिली। नोटिस के बाद सभी साक्ष्य मिटाने की तैयारी में जुट गए हैं। इधर इस घटना के बाद गांव में सभी के बीच हलचल मची हुई है। जितने चिंतित बिट्टू के परिजन हैं उतने ही चिंतित घायल मो. झुनझुन के परिजन भी हैं। लोग यह भी कह रहे हैं कि घायल के परिजनों ने दबाव में आकर गलत बयान दे पटाखे की बात कही थी, अब राइफल की जांच के बाद सबकुछ दूध का दूध और पानी हो जाएगा।

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

मां सुल्ताना के हाथों से राइफल छीन की थी फायरिंग

जीरादेई थाना क्षेत्र के चांदपाली गांव में 16 अप्रैल को दो युवकों के बीच हुई मारपीट के बाद फायरिंग की घटना में अब धीरे धीरे पुलिस घटनाक्रम के बहुत नजदीक आ चुकी है। कांड का सुपरविजन कर रहे वरीय पुलिस पदाधिकारी को कई अहम सुराग हाथ लगे हैं जिस आधार पर मामले को गोपनीय रख पुलिस अपना काम चुप्पी साध कर कर रही है। इसी कड़ी में मिली जानकारी के अनुसार एक बात सामने आई है कि गोली मारने वाले युवक मो. बिट्टू ने अपनी मां सुल्ताना खातून के हाथों से जबरन राइफल छीन गांव के मो. झुनझुन पर फायरिंग कर दी थी। जिसमें मो. झुनझुन को गोली छूते हुए निकल गई थी और पड़ोसी मो. शहाबुद्दीन खान के घर के पीछे खिड़की के पास दीवार में जा फंसी। हालांकि घायल मो. झुनझुन ने गोली की घटना से साफ इन्कार करते हुए पटाखा से घायल होने की बात अपने फर्द बयान में नगर थाना पुलिस को दिया था। इस घटना को लेकर जीरादेई थाना पुलिस की कार्यशैली पर भी लोग कई तरह से चर्चा कर रहे हैं।

बचने को कई प्रकार के विधि अपना रहे लाइसेंसधारी

चांदपाली गांव में जिस हथियार से गोली चली उस हथियार से पूर्ण रूप से साक्ष्य मिटाने के लिए लाइसेंसधारी कई तरह के विधि अपना रहे हैं। सूत्र बताते हैं कि लाइसेंसधारी विभिन्न गन हाउस व हथिया के जानकार के पास हथियार से साक्ष्य मिटाने के लिए हथियार ले जा रहे हैं ताकि अगर पुलिस हथियार को जब्त कर जांच हेतु भेजेगी तो जब्त हथियार से पुलिस को कुछ साक्ष्य नहीं मिलेंगे। सूत्रों का कहना है कि अगर समय रहते पुलिस हथियार को जब्त कर लेती तो शायद लाइसेंसधारी को कई तरह के विधि अपनाने में सफलता नहीं मिलती और पुलिस को भी आसानी से साक्ष्य प्राप्त हो जाते।

कहते हैं थानाध्यक्ष :

थानाध्यक्ष ने बताया कि जख्म प्रतिवेदन मेरे द्वारा लेने का प्रयास किया जा रहा है। चांदपाली निवासी लाइसेंसधारी मो. इशा को हथियार जमा करने के लिए नोटिस तामिला कराई गई है। हथियार जमा होते ही उसे जांच के लिए भेज दिया जाएगा।
सुनील कुमार, थानाध्यक्ष, जीरादेई​

inspecter or jiradei