आंदर: अस्पताल में एंटी रैबीज खत्म होने से मरीज परेशान

0

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के आंदर प्रखंड मुख्यालय स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में 10 दिनों से एंटी रैबीज सूई खत्म है। इसके चलते कुत्तों और बंदरों के काटने से घायल हुए लोगों को बाहर से महंगे दरों पर सूई खरीदना पड़ रहा है। प्रतिदिन कुत्तों व बंदरों के काटने के करीब 10 से 15 लोग अस्पताल पहुंच रहे हैं लेकिन एंटी रैबीज सूई नहीं होने के कारण वे निराश होकर बाजारो में महंगे दरों पर खरीदना पड़ रहा है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

आंदर प्रखंड के पिपरा गांव निवासी साहेब सिंह विजेता ने बताया कि आठ वर्षीय पुत्र सुयश कुमार को आठ मार्च को कुत्ते ने काट लिया था। नौ मार्च को अस्पताल में एंटी रैबीज का इंजेक्शन लगवाने के लिए अपने बच्चे को ले गए हुए थे लेकिन पता चला कि इंजेक्शन खत्म हो चुका है। इसके बाद बाहर से इंजेक्शन को खरीद कर लाया और इंजेक्शन को भी बाहर से लगवाना पड़ा। वहीं दूसरा इंजेक्शन रविवार को लेने के लिए अस्पताल पहुंचा तो पता चला कि अभी तक एंटी रैबीज इंजेक्शन अस्पताल में उपलब्ध नहीं है। इस संबंध में स्वास्थ्य कर्मी बीसीएम मधुरेंद्र कुमार ने बताया कि इंजेक्शन की मांग विभाग से की गई है, जल्द ही उपलब्ध हो जाएगा। ज्ञात हो कि निजी अस्पतालों में यह इंजेक्शन तीन सौ से पांच सौ रुपये में मिलता है।