छपरा:- दस दिन बीतने के बाद भी हत्याकांड में नहीं हुई किसी की गिरफ्तारी

0

मृतक के परिजनों ने थाना प्रभारी पर केस लीपापोती करने का लगाया आरोप

छपरा: दीपावली की रात्रि में नयागांव थाना क्षेत्र के रसूलपुर महमूद चक गांव में जुआ खेलने को लेकर हुए विवाद में दो पक्षों में जमकर मारपीट हुई थी। इस दौरान एक पक्ष के एक महिला सहित चार लोग बुरी तरह से जख्मी हुए थे। जिसमें पीएमसीएच पटना में ईलाज के दौरान गत 15 नवम्बर रविवार को एक घायल ढोलन सहनी का मौत हो गया था तथा दूसरा घायल लक्ष्मी सहनी आज भी पटना के अस्पताल में जिंदगी और मौत से जूझ रहा है। इस कांड में मृतक के भाई द्वारा दस लोगो को नामजद आरोपी बनाकर नयागांव थाना में प्राथमिकी दर्ज कराया है जिसमें मुख्यरूप से योगेंद्र राय, गोलू गोस्वामी, हरिन्द्र राय,कृष्णा राय,राम जी राय,रविन्द्र राय,बच्चा कुमार राय, लालबाबू राय, बलिराम सिंह एवं अर्जुन कुमार राय शामिल है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

दस दिन बीत जाने के बाद भी नयागांव पुलिस ने इस हत्याकांड के एक भी आरोपी को गिरफ्तार करने में नाकाम रही है। ….आखिर सभी आरोपी कहाँ गया क्या धरती निगल लिया या आसमान खा गया।इस बात को लेकर मृतक के परिजन काफी भयभीत रह रहे हैं तथा थाना प्रभारी पर केस को लीपापोती करने एवं इस कांड के एक आरोपी दिनेश राय पिता बुधन राय को बचाने का आरोप लगाते हुए कहा है कि नयागांव थाना प्रभारी इस हत्याकांड में आरोपी एक विशेष वर्ग के लोगो का मदद कर रहे है।

वहीं नयागांव बाजार में बीते जुलाई माह में भूमाफिया द्वारा जबरन दूसरे के जमीन पर कब्जा करने एवं मारपीट करने को लेकर दो अलग अलग प्राथमिकी दर्ज किया गया था लेकिन आजतक नयागांव कांड संख्या 102/20, 103/20 एवं कांड संख्या 124/20 में इतने दिनों बीतने के बाद भी नयागांव पुलिस ने एक भी नामजद या अज्ञात आरोपी को गिरफ्तार नही कर पाया है जिसके कारण भूमाफियाओं के मदद करने एवं केस में शिथिलता बरतने एवं भूमाफिया के साथ मिलीभगत का गंभीर आरोप नयागांव थाना प्रभारी पर पहले भी लग चुका है। वहीं कांड संख्या 131/20 तथा 154/20 में किसी भी अपहृत युवती की बरामदगी करने में नयागांव पुलिस नाकाम रही है।