छपरा : दहेज में अल्टो कार के लिए विवाहिता को मारपीट कर घर से निकाला

0
dowry murder

विवाहिता ने परिजनों ने कोर्ट में लगाई न्याय की गुहार

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

छपरा : जिले के तरैया थाना क्षेत्र के पचभिण्डा गांव में दहेज में अल्टो कार के लिए एक विवाहिता को प्रताड़ित कर मारपीट कर घर से निकाल देने का मामला प्रकाश में आया है। विवाहिता के भाई गरखा थाना क्षेत्र के इस्माइलपुर निवासी पंकज कुमार सिंह द्वारा कोर्ट परिवाद के आधार पर तरैया थाने में रामू कुमार सिंह, अशोक कुमार सिंह, रानी देवी, रामनाथ सिंह, कृष्णा सिंह, शांति देवी, भैरव कुमार सिंह को नामजद अभियुक्त बनाते हुए प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। जिसमें कहा गया है कि उनकी बहन किरण देवी की शादी गत वर्ष 2011 में पचभिण्डा गांव निवासी रामनाथ सिंह के पुत्र रामू कुमार सिंह के साथ हिंदू रीति रिवाज के अनुसार संपन्न हुई थी। शादी में उपहार स्वरूप सभी समान एवं पांच लाख रुपये नगद दिया गया। शादी के कुछ दिन बाद से ही ससुराल पक्ष वालों द्वारा दहेज में अल्टो कार की मांग किया जाने लगा।

जिसकी सूचना मेरी बहन हम लोगों को फोन पर दिया। जिसके बाद मेरे पिताजी उसके ससुराल वालों को काफी समझाएं बुझाए, लेकिन उनलोगों का रवैया वही रहा और दहेज के लिए मेरी बहन को प्रताड़ित करने लगे एवं कमरे में बंद करके उसे मारने पीटने लगे। तथा उसे मारपीट एवं प्रताड़ित कर उसे घर से निकाल दिया गया। जिसके बाद मेरी बहन रोते बिलखते हुए अपने मायके आ गई। तथा सब बात हमलोगों को बताई। ससुराल वालों से बात करने व बहुत आग्रह करने पर वह लोग मेरी बहन को विदाई कराकर उसे ससुराल ले गए। बहन के जाने के बाद उससे कई बार मोबाइल से बात करने की कोशिश की गई। लेकिन ससुराल वालों द्वारा मेरी बहन से बात नहीं कराई। कुछ दिन बाद ही पता चला कि ये सभी लोग एक अपराधिक षड्यंत्र रच कर मेरी बहन को कहीं गायब कर दिए हैं कहीं वे लोग उसकी हत्या ना कर दिए हो। पुलिस कोर्ट परिवाद के आधार पर तरैया थाने में प्राथमिकी दर्ज कर मामले की गहनता से जांच कर रही है।