छपरा पुलिस की कामयाबी, झपट्टा मारी गई 9 मोबाइल के साथ अपराधी गिरफ्तार

0
  • शहर में लंबे समय से मोबाइल झपटने में सक्रिय थे गिरोह के सदस्य
  • महंगी मोबाइल टारगेट कर झपटते थे अपराधी

छपरा: शहर में मोबाइल झपट्टा मारने वाले अंतर प्रांतीय अपराधियों के गिरोह का खुलासा करने में पुलिस ने महत्वपूर्ण कामयाबी हासिल की है। 9 मोबाइल के साथ एक अपराधी को गिरफ्तार कर लिया है। इस मामले में वांटेड दूसरे अपराधी को गिरफ्तार करने के लिए संभावित ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है। इस आशय की जानकारी सदर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी मुनेश्वर प्रसाद सिंह ने भगवान बाजार थाना में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में सोमवार को दी। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार अपराधी से पूछताछ में कई महत्वपूर्ण सुराग मिले हैं, जिसकी जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि भगवान बाजार थाना क्षेत्र के छोटा ब्रह्मपुर निवासी संदीप कुमार पांडेय उर्फ सतन पांडेय को गिरफ्तार किया गया, जिसके पास से नौ मोबाइल बरामद किया गया है । अपराधी को सर्विलांस के आधार पर पकड़ा गया। पूछताछ में यह बात सामने आई है कि उत्तर प्रदेश के बलिया जिले के भीमपुरा थाना क्षेत्र के अहिरौली गांव निवासी नंद किशोर पांडेय उर्फ नंदू के साथ मिलकर वह घटना को अंजाम देता था।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

मुख्य रूप से इन अपराधियों के द्वारा वैसे लोगों को टारगेट किया जाता था, जो मोबाइल से बात करते हुए पैदल चलते थे या रास्ते पर खड़े होकर मोबाइल से बात कर रहे होते थे। पकड़े गए अपराधी मोटरसाइकिल रेस में माहिर हैं। अपराधी मोबाइल झपट्टा मारने के बाद तेज गति से बाइक चलाकर फरार हो जाते थे। उन्होंने बताया कि हाल के दिनों में शहर में कई स्थानों पर राहगीरों से मोबाइल न झपटने की घटना हुई थी, जिसको लेकर टीम का गठन किया गया था। गठित टीम में भगवान बाजार थानाध्यक्ष सह पुलिस निरीक्षक मुकेश कुमार झा, पुलिस अवर निरीक्षक विकास कुमार सिंह, नीरज कुमार यादव तथा सहायक पुलिस अवर निरीक्षक लक्ष्मण राय को शामिल किया गया था। इसके अलावा टेक्निकल सेल को भी लगाया गया था। सर्विलांस के आधार पर अपराधी को पकड़ा गया, जिसके पास से झपट्टा मारे गए तथा लूटे गए मोबाइल बरामद किया गया। अपराधियों ने पुलिस के समक्ष स्वीकार किया है कि झपट्टा मारे गए तथा लूटे गए मोबाइल को शहर के टेलीकॉम में लॉक तोड़वाते थे। एसडीपीओ नेम बताया कि पुलिस के लिए यह महत्वपूर्ण कामयाबी है। गिरफ्तार अपराधी से कई महत्वपूर्ण सुराग पुलिस को मिले हैं, जिससे शहर में सक्रिय उच्चको तथा झपट्टा मारने वाले गिरोह का खुलासा होने की संभावना है। इस ग्रुप में अन्य अपराधियों के भी शामिल होने की आशंका है, जिसकी जांच की जा रही है। उत्तर प्रदेश के रहने वाले दूसरे अपराधी की गिरफ्तारी के लिए कार्रवाई शुरू कर दी गई है।