छपरा: जिले में चलाया गया मेगा टीकाकरण अभियान, केंद्रों पर काफी संख्या में पहुंचे लाभार्थी

0

अधिक से अधिक लाभार्थियों को टीका लगाने का रखा गया था लक्ष्य

छपरा: शुक्रवार को जिले में कोरोना संक्रमण के खिलाफ व्यापक स्तर पर मेगा टीकाकरण अभियान चलाया गया। जिसके तहत 18 वर्ष से अधिक के सभी उम्र के लाभार्थियों को टीका दिया गया। टीकाकरण केंद्रों पर उत्सुकता के साथ लोग टीका लेने के लिए पहुंचे थे और अपनी बारी का इंतजार बेसब्री से कर रहे थे। सभी निर्धारित केंद्रों पर वैक्सीन लेने के लिए पहुंचे ।  ऐसा पहली बार देखने को मिला कि हर उम्र के लोग वैक्सीन लेने को उत्सुक दिखे।नई दुल्हन से लेकर बुजुर्गों में वैक्सीन लेने को लेकर काफी उत्साह देखा गया तो युवक व युवतियां भी वैक्सीन लेने में पीछे नहीं रहे।कोई घूंघट की आड़ में तो कोई लाठी डंडा या अन्य सहारे से केंद्रों पर जाते देखे गए। हर जगह ऐसा लगा मानों लोगों में वैक्सीन लेने की होड़ लगी थी।

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

हर केंद्र पर निर्धारित समय से पहले ही पहुंच गए थे लोग

समय से पूर्व ही वैक्सीन लेने वाले लोगों के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया था। कल तक जहां वैक्सीन लेने के लिए लोगों को घर-घर जाकर मनाना पड़ता था अब स्थिति बिल्कुल उसके उलट हो गया है ।

ऑनसाइट किया गया रजिस्ट्रेशन

मेगा टीकाकरण के दौरान सभी टीकाकरण केंद्रों पर ऑनसाइट रजिस्ट्रेशन की सुविधा उपलब्ध कराई गई थी। ताकि किसी लाभार्थी को टीकाकरण से वंचित नहीं रहना पड़े और सभी पात्र लाभार्थियों को कोविड का टीका दिया जा सके। पहले से रजिस्टर्ड लाभार्थियों को भी टीकाकरण किया गया।

संक्रमण के खिलाफ सुरक्षा कवच है वैक्सीन

सिविल सर्जन डॉ जनार्दन प्रसाद सुकुमार ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए कोविड-19 का वैक्सीन सुरक्षा कवच साबित हो रहा है। कोरोना संक्रमण के तीसरे लहर से अगर बचना है तो हर किसी को आगे आकर टीकाकरण कराना आवश्यक है । उन्होंने कहा कि पूरे बिहार में छह माह में छह करोड़ व्यक्तियों को टीका देने का लक्ष्य रखा गया है। टीकाकरण अभियान को गति देने का प्रयास विभाग के द्वारा लगातार किया जा रहा है। इसी कड़ी में शुक्रवार को मेघा टीकाकरण अभियान चलाकर 18 वर्ष से ऊपर के सभी व्यक्तियों का टीकाकरण निर्धारित टीकाकरण केंद्रों पर किया गया।