कोरोना कहर: गोपालगंज सदर अस्पताल में एक-एक कर थम गईं 11 मरीजों की सांसें

0

गोपालगंज : कोरोना की दूसरी लहर के बीच लोगों में सांस लेने में दिक्कत की समस्या बढ़ती जा रही है। रविवार की देर रात से लेकर सोमवार तक सांस लेने में दिक्कत व दम घुटने की समस्या से पीड़ित दो दर्जन लोग सदर अस्पताल पहुंचे। जिन्हें इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कर ऑक्सीजन चढ़ाया गया। कोरोना जांच में इन सबकी रिपोर्ट निगेटिव मिली। लेकिन ऑक्सीजन चढ़ाए जाने के बाद भी 11 मरीजों का ऑक्सीजन लेवल गिरता चला गया। एक-एक कर इन 11 मरीजों की सांसें थम गईं। रविवार को इमरजेंसी वार्ड में सांस लेने में हो रही दिक्कत की शिकायत पर भर्ती किए गए पांच मरीजों की मौत होने के बाद सोमवार को सांस लेने की समस्या के कारण ही 11 और मरीजों की मौत से चिकित्सक से लेकर स्वास्थ्य कर्मियों की चिता बढ़ गई है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2023-10-11 at 9.50.09 PM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.50 AM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.51 AM
ahmadali
WhatsApp Image 2023-11-01 at 2.54.48 PM

कोरोना की दूसरी लहर में सांस लेने में हो रही दिक्कत की समस्या को लेकर काफी संख्या में लोग सदर अस्पताल पहुंच रहे हैं। रविवार की रात नौ बजे से लेकर सोमवार की दोपहर दो बजे तक सांस लेने में हो रही दिक्कत से पीड़़ति दो दर्जन मरीजों को इमरजेंसी वार्ड में भर्ती किया गया। लेकिन ऑक्सीजन चढ़ाने जाने के बाद भी एक-एक कर 11 मरीजों की मौत हो गई। जिनकी सांसे थम गईं, उचकागांव थाना क्षेत्र के नवादा परसौनी गांव निवासी रंजीत महतो, उचकागांव थाना क्षेत्र के सना माधो गांव निवासी कुशल रावत, मीरगंज थाना क्षेत्र के जिगना गांव निवासी धीरेंद्र राम, थावे थाना क्षेत्र के सिहोरवां उपेंद्र प्रसाद, बरौली बाजार निवासी मुनीलाल सिंह, बरौली थाना क्षेत्र के बलहा गांव निवासी मजबुन नेशा, उचकागांव थाना क्षेत्र के परसौनी गांव निवासी पानमती देवी, नगर थाना क्षेत्र के काकड़पुर गांव निवासी समसुल हक, जादोपुर थाना क्षेत्र के भुआली टोला गांव निवासी मरधिया देवी, यूपी के कुशीनगर जिला के तमकुही राज निवासी गुलाब पाण्डेय व थावे थाना क्षेत्र के बरारी हरकेश निवासी अली हैदर थे।

इमरजेंसी वार्ड में ड्यूटी पर तैनात चिकित्सकों ने बताया कि ऑक्सीजन चढ़ाए जाने के बाद भी इन मरीजों का ऑक्सीजन लेवल गिरता चला गया। जिसके कारण इनकी मौत हो गई। उन्होंने बताया कि इन सभी की कोरोना जांच करने पर रिपोर्ट निगेटिव मिली। 11 मरीजों की मौत होने की जानकारी मिलने पर इमरजेंसी वार्ड पहुंचे अस्पताल प्रबंधक अमरेंद्र कुमार सिंह ने स्वजनों को समझाकर 11 मरीजों के शव को एंबुलेंस से उनके घर पहुंचाने की व्यवस्था किया।

प्राइवेट एंबुलेंस के पास ऑक्सीजन की है कमी

गोपालगंज : ऑक्सीजन की कमी नहीं होने का दावा जिला प्रशासन कर रहा है। सदर अस्पताल सहित जिले के सभी सरकारी अस्पतालों में ऑक्सीजन उपलब्ध है। लेकिन सरकारी एंबुलेंस की कमी तथा प्राइवेट एंबुलेंस में ऑक्सीजन की कमी के कारण रेफर करने के बाद भी स्वजन मरीज को इलाज के लिए बाहर लेकर नहीं जा पा रहे हैं। बताया जाता है कि सांस लेने में दिक्कत के कारण सदर अस्पताल के इमरेजेंसी वार्ड में भर्ती उन मरीजों को जिनका ऑक्सीजन चढ़ाने के बाद ऑक्सीजन लेवल गिरता जा रहा है, उन्हें चिकित्सक रेफर कर देते हैं।

लेकिन सरकारी एंबुलेंस की कमी व प्राइवेट एंबुलेंस में मरीजों को ऑक्सीजन नहीं मिलने के कारण रेफर होने के बाद भी स्वजन मरीज को बाहर नहीं ले जा पा रहे हैं। जिसके कारण सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड के बेड पर मरीज अपने जीवन की अंतिम सांसे गिनने को मजबूर हो जाते हैं। इस संबंध में पूछे जाने पर सदर अस्पताल के प्रबंधक अमरेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि कोई भी व्यक्ति या एंबुलेंस संचालक ऑक्सीजन के लिए सदर एसडीओ के यहां आवेदन देकर ऑक्सीजन प्राप्त कर सकता है। ऑक्सीजन की कमी जिले में नहीं है।