देश में कोरोना केस 10 लाख पार, इन 9 राज्यों के आंकड़े गंभीर होते खतरे का दे रहे संकेत

0

नई दिल्ली : भारत में कोरोना वायरस के कुल मामले दस लाख का आंकड़ा पार कर चुके हैं। दुनिया में ये आंकड़ा पार करने वाला भारत सिर्फ तीसरा देश है। देश में कोरोना वायरस के मामले काफी तेजी से बढ़ रहे हैं और हर रोज 35 हजार के करीब मामले दर्ज किए जा रहे हैं। जैसे-जैसे टेस्टिंग बढ़ रही है, वैसे-वैसे ही हर रोज नए रिकॉर्ड बनते और टूटते हुए दिख रहे हैं।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश समेत ऐसे कई राज्य हैं जहां पर हर रोज हजारों की संख्या में केस आ रहे हैं, जो देश में आने वाले वक्त में कोरोना वायरस की लड़ाई को और भी मुश्किल कर सकते हैं।
इन राज्यों में हालात हुए बेकाबू…

देश में महाराष्ट्र ऐसा राज्य है, जहां कुल आंकड़ों के करीब 30 फीसदी मामले सामने आ रहे हैं। महाराष्ट्र में हर दिन नया रिकॉर्ड बन रहा है और अब तो 8000 केस प्रति दिन के हिसाब से आ रहे हैं। दूसरी ओर तमिलनाडु और कर्नाटक में भी हर रोज चार हजार नए मामले दर्ज किए जा रहे हैं। जिन राज्यों में हर रोज सबसे अधिक मामले आ रहे हैं, उनपर एक नज़र डालिए..

list

गौरतलब है कि देश में करीब दस राज्य ऐसे हैं, जहां कुल केसों का अधिकतर हिस्सा है। ऐसे में इन राज्यों को लेकर लगातार चिंता बढ़ रही है। हालांकि, अगर टेस्टिंग के आंकड़ों को देखें तो अब हर तीन दिन में दस लाख टेस्ट किए जा रहे हैं और एक लाख केस सामने आ रहे हैं। यानी देश में अभी भी पॉजिटिविटी रेट दस फीसदी के आस-पास बना हुआ है।

कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के कारण ही उत्तर प्रदेश, बिहार, बंगाल, कर्नाटक, तमिलनाडु जैसे कई राज्यों ने एक बार फिर लॉकडाउन लगाया है। कुछ जगह कुछ दिनों के लिए लॉकडाउन लगाया गया है, तो वहीं कुछ जगह वीकेंड के हिसाब से लॉकडाउन है।

अगर देश में कोरोना वायरस की रफ्तार को देखें, तो शुरुआती एक लाख मामले में करीब 110 दिन लगे थे। लेकिन उसके बाद ये रफ्तार तेजी से बढ़ी। अब पिछले दो लाख मामले सिर्फ 6 दिनों में आए हैं, यानी हर तीन दिन में एक लाख नया केस। रोज आने वाले केस के मामले में भारत अब सिर्फ अमेरिका से ही पीछे है।