कोरोना का कहर : सिवान के महाराजगंज में कोविड से संक्रमित दो लोगों की इलाज के दौरान हुई मौत

0
  • अब तक महाराजगंज अनुमंडल के डेडीकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर में कोरोना से मरने वालों की संख्या हुआ तीन
  • चार रोज पूर्व इलाज के दौरान एक 72 वर्षीय वृद्ध व्यक्ति की हुई थी मृत्यु

परवेज अख्तर/सिवान : लगातार कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या में वृद्धि हो रही है, सोमवार को महाराजगंज अनुमंडल के डेडीकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर में इलाज के दौरान दो लोगों की मौत हो गई। गौरतलब है कि चार रोज पूर्वी भी यहां कोरोना से संक्रमित एक व्यक्ति की मौत हो गई थी,अब महाराजगंज के अनुमंडलीय डेडीकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर में इलाज के दौरान कोविड-19 से मरने वालों की संख्या कुल तीन हो गई है,आपको बताते चलें कि पहला 72 वर्षीय कोरोना संक्रमित मरीज की मृत्यु गुरुवार को अनुमंडल के डेडीकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर में इलाज के दौरान हुई थी, मृतक आंदर थाना क्षेत्र के हसनपुरवा गांव निवासी काशी शर्मा था। जो छह रोज पूर्व अहमदाबाद से घर लौटा था जांच में कोरोना पॉजिटिव होने के बाद अनुमंडलीय अस्पताल महाराजगंज में इलाज के लिए भर्ती कराया गया था,वहां उसकी ऑक्सीजन लेवल में गिरावट होने के बाद मृत्यु हो गई। वही दूसरा कोरोना से संक्रमित एक 45 वर्षीय युवक को रविवार की रात्रि 11:00 बजे इलाज के लिए भर्ती कराया गया, युवक का आरटीपीसीआर जांच कोरोना पॉजिटिव पाया गया था। जहां इलाज के दौरान सोमवार को उसकी मृत्यु हो गई।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

मृतक बड़हरिया थाना क्षेत्र के नवलपुर निवासी जगदेव राम के 45 वर्षीय पुत्र सुनील कुमार राम है,इसके बाद डेडीकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर में कोरोना से मरने वाले तीसरे संक्रमित मरीज की पहचान पचरुखी थाना क्षेत्र के टोला मठिया निवासी मतिउर रहमान के 40 वर्षीय पुत्र शौकत अली के रूप में हुई है, बताते चलें कि कोरोना से संक्रमित मरीज सूरत से लौटा था। जिसकी जांच के बाद कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी, इस संबंध में महाराजगंज अनुमंडल अस्पताल के स्वास्थ्य प्रबंधक देवेंद्र सिंह बघेल ने बताया कि संक्रमित मरीज का रिपोर्ट पॉजिटिव आया था, इसके बाद इलाज के लिए उसे महाराजगंज के डेडीकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर में भर्ती कराया गया था। युवक पिछले कई दिनों से करोना वायरस की चपेट में आ गया था। सोमवार को उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई। इधर कोरोना से संक्रमित युवक की मौत के बाद परिजनों में कोहराम मच गया है। बताया जा रहा है कि मृतक की अंतिम संस्कार चिकित्सकों की एक टीम की देखरेख में किया जाएगा,ताकि कोविड से किसी और व्यक्ति संक्रमित न हो सकें।

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here