छपरा: अपराधियों ने दुस्साहस का दिया परिचय, शाम मे व्यवसायी को मारी गोली

0

पीएमसीएच रेफर, जांच में जुटी पुलिस

छपरा: जिले के नगरा थाना क्षेत्र के कादीपुर स्थित पवन मैरेज हॉल के पास अज्ञात अपराधियों ने एक युवक को गोली मारकर रविवार को सरे शाम गंभीर रूप से घायल कर दिया। घायल व्यवसायी बनियापुर थाना क्षेत्र के चेतन छपरा निवासी रघुनाथ सिंह के 44 वर्षीय पुत्र नरेंद्र कुमार सिंह है। बताया जाता है कि छपरा में उनका ट्रांसपोर्ट का व्यवसाय है और वह मोटरसाइकिल से नगरा के रास्ते छपरा जा रहे थे। इसी दौरान दो मोटरसाइकिल पर सवार पांच अपराधियों ने घेर लिया और गोली मार दी। गोली उनके पेट में लगी है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
muskan buty

गोली लगने से घायल ट्रांसपोर्ट व्यवसाय नरेंद्र को स्थानीय लोगों ने इलाज के लिए नगरा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया, जहां प्राथमिक उपचार के बाद चिकित्सकों ने बेहतर इलाज के लिए सदर अस्पताल छपरा रेफर कर दिया। इस घटना के कारण कादीपुर तथा नगरा बाजार से लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र तक अफरा-तफरी की स्थिति बनी रही। घटना की सूचना पाकर नगरा थानाध्यक्ष नित्यानंद राय दल बल के साथ पहुंचे और स्थानीय लोगों से घटना के बारे में जानकारी ली।

इसकी सूचना वरीय पुलिस अधिकारियों को भी दी। वरीय पुलिस अधिकारियों के निर्देश पर खैरा, मढौरा, गौरा, जलालपुर तथा बनियापुर, सहाजितपुर समेत विभिन्न थानों में वाहन जांच शुरू कर दिया गया है और पुलिस को अलर्ट कर दिया गया है।नगरा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में डॉक्टर सौरभ कुमार ने गोली निकाल दिया, जिसे पुलिस ने जब कर ली है। गोली मारने के कारणों तथा अपराधियों के बारे में पता नहीं चल सका है।

इस घटना के कारण नगरा के व्यवसाई तथा ग्रामीण सकते में है। घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस इसकी जांच में जुट गई है। समाचार लिखे जाने तक इस मामले में प्राथमिकी दर्ज नहीं हो सका है । घायल की स्थिति काफी गंभीर बताई जा रही है। सदर अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद चिकित्सकों ने बेहतर इलाज के लिए पीएमसीएच पटना रेफर कर दिया।

घायल को सदर अस्पताल लाए जाने के बाद अस्पताल में अफरा-तफरी की स्थिति उत्पन्न हो गयी, हालांकि पहले से भगवान बाजार थाने की पुलिस अस्पताल में मौजूद थे और मेडिकल टीम को भी तैयार रखा गया था। घायल के परिजन की घटना के बारे में स्पष्ट रूप से कुछ नहीं बता पा रहे हैं। व्यवसाई को लूटपाट के दौरान गोली मारी गई है या पुरानी रंजिश में घटना हुई है? यह स्पष्ट नहीं हुआ है, लेकिन चर्चा है कि कुछ लोगों से नरेंद्र सिंह की पुरानी रंजिश थी, जिसके कारण गोली मारी गई है। घायल का बयान दर्ज होने के बाद ही वस्तु स्थिति स्पष्ट होने की उम्मीद है।