दरौली: संदिग्ध परिस्थिति में गोली लगने से बलिदानी की मौत से गांव में शोक का माहौल

0

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के दरौली थाना क्षेत्र के दोन गांव बलिदानी की मौत मंगलवार की देर शाम संदिग्ध परिस्थिति में गोली लगने से हो गई। मृतक की पहचान दरौली थाना क्षेत्र के दोन निवासी शंभू यादव के पुत्र प्रदीप यादव के रूप में हुई है। घटना की सूचना मिलते ही स्वजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। वहीं उसकी मौत से गांव में शोक का माहौल कायम हो गया। बताया जाता है कि प्रदीप यादव जम्मू कश्मीर के टांडा में अग्निवीर के रूप में ड्यूटी पर तैनात थे। ड्यूटी के दौरान उन्हें अचानक गोली लग गई इससे वे घायल हो गए। उनके साथियों ने आनन-फानन में इलाज के लिए अस्पताल में लाए जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। साथियों ने इसकी सूचना स्वजनों को दी। सूचना मिलते ही मां देवांती देवी, पिता शंभू यादव, बहन संगीता देवी, रीता देवी एवं रवि कुमार यादव समेत अन्य स्वजनों के रोने से माहौल गमगीन हो गया। मृत प्रदीप दो भाई व दो बहन में सबसे छोटे थे। प्रदीप यादव की मौत की सूचना मिलते ही काफी संख्या में लोगों की भीड़ दरवाजे पर उमड़ पड़ी। सूचना मिलने पर भाजपा महादलित प्रकोष्ठ के जिला संयोजक मनोज कुमार राम, सचिन कुमार दुबे, विद्यासागर बैठा, श्रीराम यादव, जदयू नेता सुशील गुप्ता समेत समेत कई जनप्रतिनिधि व ग्रामीण स्वजनों को ढाढ़स बंधा रहे थे। वहीं स्वजन उसके पार्थिव शरीर आने का इंतजार कर रहे थे।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2023-10-11 at 9.50.09 PM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.50 AM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.51 AM
ahmadali
WhatsApp Image 2023-11-01 at 2.54.48 PM

पिता ने खेतीबाड़ी कर पुत्र को बनाया था अग्निवीर :

दोन निवासी शंभू यादव पेशा से एक किसान हैं। उनका सपना था कि मेरा छोटा पुत्र को सेना में भर्ती होकर देश की सेवा करे। वे अपने पुत्र को सेना में देखना चाहते थे तथा उसे प्रेरित करते थे। प्रदीप यादव ने कड़ी मेहनत कर पिता के सपनों को साकार किया और 21 फरवरी 2023 को अग्निवीर के तहत अपना योगदान दिया ।