दरौंदा: सोनू दूबे की गोली मारकर हत्या मामले में शेष चार अभियुक्तों की गिरफ्तारी नहीं

0

परवेज अख्तर/सिवान: सीवान न्यायालय में चल रहे मुकदमा उठाने को लेकर मनिभूषण दूबे उर्फ सोनू दूबे की गोली मारकर हत्या किए जाने के एक सप्ताह बाद भी शेष चार अभियुक्तों की गिरफ्तारी पुलिस के लिए चुनौती बन गई है. हालांकि पुलिस का दावा है कि बहुत जल्द सलाखों के पीछे होंगे हत्यारे. इससे परिजनों में पुलिस-प्रशासन के खिलाफ रोष व्याप्त है. इस मामले में हत्यारों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी की मांग को लेकर परिवार के लोग आरक्षी अधीक्षक से मिलेंगे. बताते चले कि विगत 21 अगस्त को भगवानपुर हाट थाना क्षेत्र के रामपुर महेश गांव निवासी अनिल कुमार दूबे के पुत्र मनिभूषण दूबे उर्फ सोनू दूबे को दरौंदा थाना क्षेत्र के भीखाबांध मठ के समीप बहनोई सारण जिले के मढौरा थाना क्षेत्र के लेरूआ गांव निवासी अनिल कुमार पांडे के पुत्र अभिनव सागर एवं अनुराग सागर भगवानपुर हाट थाना क्षेत्र के रामपुर महेश गांव निवासी सुरेंद्र प्रसाद के पुत्र सूरज प्रसाद, चंद्रशेखर दूबे के पुत्र लालू दूबे एवं सोनू दूबे समेत 3-4 अज्ञात अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 9.29.39 PM

जिसमें मृतक सोनू दूबे के भाई शशिभूषण दूबे के बयान पर पुलिस ने 223/2022 के प्राथमिकी दर्ज किया. जिसमें पुलिस दबिश के कारण गांव के ही मुख्य आरोपी सुरेंद्र प्रसाद के पुत्र सूरज प्रसाद ने 24 अगस्त को सीवान न्यायालय में आत्मसमर्पण कर दिया. लेकिन इस हत्या कांड में अभी भी चार नामजद अभियुक्त पुलिस गिरफ्त से बाहर बताएं जा रहें हैं. घटनास्थल पर पहुंचे थानेदार ने हत्यारों को शीघ्र गिरफ्तार करने का परिजनों को आश्वासन दिया था. परंतु एक सप्ताह बीत जाने के बाद भी सोनू के चार हत्यारों को पुलिस नहीं पकड़ पाई हैं. मृतक सोनू के परिजनों ने आरक्षी अधीक्षक से मिलकर हत्यारों को शीघ्र गिरफ्तार करने की मांग करेंगे. इस संबंध में थानेदार कैप्टन शहनवाज ने बताया कि पुलिस अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए विभिन्न जगहों पर छापेमारी कर रही है. बहुत जल्द ही सोनू के हत्यारे सलाखों के पीछे होंगे.