सजग हुई जिला प्रशासन :- बसंतपुर बाजार में रोड जाम कर प्रदर्शन करने वालों के विरुद्ध दर्ज होगी प्राथमिकी

0
  • स्टेशन डायरी कर वीडियो फुटेज के आधार पर पुलिस कर रही है चिन्हित
  • सीवान- सोनहो मुख्य मार्ग को लगभग 3:30 घंटों तक जाम कर पुलिस प्रशासन के विरुद्ध जमकर हुई थी नारेबाजी
  • आदर्श आचार संहिता को लेकर जिला प्रशासन ने इसे चुनौती के रूप में किया है स्वीकार

परवेज़ अख्तर/सिवान:
नाबालिग युवती की हत्या कांड को लेकर बीते दिन बसंतपुर बाजार के ठीक बीचो- बीच में रोड जाम कर प्रदर्शन करने वालों के विरुद्ध जिला पुलिस प्रशासन काफी गंभीर हो गई है।जिला प्रशासन ने इसे चुनौती के रूप में स्वीकार करते हुए स्थानीय थाना पुलिस को कई दिशा निर्देश दी है। जिसके आलोक में स्थानीय पुलिस सजग हो गई है।स्थानीय पुलिस प्राप्त वीडियो फुटेज के आधार पर उपद्रवियों की पहचान करने में जुटी हुई है। हालांकि पुलिस ने रोड जाम कर प्रदर्शन करने को लेकर स्टेशन डायरी भी अंकित कर चुकी है।ताकि आगे की कार्रवाई करने में उसे सहूलियत हासिल हो सके। यहां बताते चलें कि बीते दिन थाना क्षेत्र के एक गांव में एक नाबालिग युवती की हत्या कर फेंकी गई लाश को स्थानीय पुलिस ने ग्रामीणों की सूचना पर बरामद किया था।बरामदगी के पश्चात पुलिस ने उसका शव पंचनामा के आधार पर पोस्टमार्टम के लिए सिवान सदर अस्पताल भेजा था।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

पुलिस ने पोस्टमार्टम की प्रक्रिया होने के बाद उसका शव परिजनों को सौंप दी थी।बाद में कुछ लोगों द्वारा मृतका का शव बसंतपुर बाजार के ठीक बीचो-बीच में रखकर सीवान- सोनहो मुख्य मार्ग को लगभग 3:30 घंटों तक जाम कर पुलिस प्रशासन के विरुद्ध जमकर नारेबाजी की थी। इस दौरान मुख्य पथ पर गाड़ियों की लंबी कतारें लग गई थी।जिससे आने जाने वाले राहगीरों को काफी कठिनाई का सामना करना पड़ा था। बीच-बीच में मौजूद पुलिस पदाधिकारियों द्वारा बोला जा रहा था कि आपकी मांगे हम आदर्श आचार संहिता के बाद  जरूर पूरा करेंगे।इसके बावजूद भी आक्रोशितों द्वारा उनकी नहीं सुनी गई। बाद में  मौजूद पुलिस पदाधिकारियों ने इसकी सूचना सिवान एसपी को दी।

हालांकि इस दौरान सदर एसडीपीओ व महाराजगंज एसडीपीओ समेत सीमावर्ती कई थानों की पुलिस मौके पर पहुंचकर आक्रोशिततो को समझाने बुझाने का प्रयास किया था परंतु आक्रोशित लोग दोनों अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी की बातें नहीं सुनी।बाद में एसपी के पहुंचने के पश्चात मामला शांत हुआ।यहां बताते चलें कि आदर्श आचार संहिता के पश्चात् आक्रोशित द्वारा मुख्य पथ को अवरुद्ध करने को लेकर जिला पुलिस प्रशासन काफी गंभीर है।

उक्त आशय की जानकारी देते हुए सदर एसडीपीओ जितेंद्र पांडे ने बताया कि स्थानीय थानाध्यक्ष रणधीर कुमार को वीडियो फुटेज प्राप्त कर सभी लोगों को चिन्हित करने का दिशा निर्देश जिला से दिया गया है। चिन्हित करने के बाद उन लोगों के विरुद्ध सुसंगत धाराओं के अंतर्गत प्राथमिकी दर्ज कर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। हालांकि इस संदर्भ में हमारे संवाददाता ने बसंतपुर थानाध्यक्ष रणधीर कुमार से दूरभाष पर संपर्क कर पूछा तो उन्होंने इस मसले पर कुछ भी बताने से साफ साफ इंकार किया है।