गोपालगंज:- मछली व्यवसायी की गोली मारकर हत्या

0

गोपालगंज: मीरगंज थाने के सबेया मोड़ के समीप शुक्रवार की सुबह करीब आठ बजे बाइक सवार दो बदमाशों ने मछली व्यवसायी जय बहादुर सिंह को गोलियों से भून डाला। बताया जा रहा है कि शुक्रवार की सुबह करीब आठ बजे हथुआ थाने के रूपनचक गांव के रहने वाले मछली व्यवसायी जय बहादूर सिंह बाइक पर सवार होकर अपने भतीजा के साथ से सबेया मोड़ पर चाय पीने जा रहे थे। वह सबेया मोड़ पर जैसे ही बाइक से उतर कर होटल की ओर बढ़े तब तक बाइक पर सवार दो बदमाशों ने उनके उपर अंधाधुंध फॉयरिंग करना शुरू कर दिया। गोली लगने के दौरान वृद्ध व्यक्ति को ले जाया गया हथुआ अनुमंडलीय अस्पताल। अस्पताल ले जाने के दौरान अनुमंडलिय अस्पताल के डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। मौत से आक्रोशित लोगों ने आगजनी कर सड़क को किया जाम।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

साथ ही शव को सड़क पर रख कर कर रहे हैं हंगामा। मौके पर पहुची पुलिस की गाड़ी का शीशा तोड़ा। हथुआ बड़कागाँव मुख्य पथ को जाम कर किए प्रदर्शन। मीरगंज के सबेया हवाई अड्डा मोड़ पर जय बहादुर सिंह की गोली मारकर हुई है हत्या। सूत्रों के मुताबिक दो बाइक सवार बदमाशों ने दिया वारदात को अंजाम, जिसमें जय बहादुर सिंह की हत्या मामला। परिजनों ने समाज कल्याण मंत्री पर लगाया साजिश के तहत हत्या कराने का आरोप. जहां पहुंचे एसपी मनोज कुमार तिवारी ने की मामले की जांच. मीरगंज थाने में एफआइआर दर्ज कर हो रही कार्रवाई। हथुआ थाना क्षेत्र के रूपंचक गांव के रहने वाले है मृतक। मछली के कारोबार से जुड़े थे जय बहादूर सिंह : बदमाशों के गोलियों के शिकार हुए रूपनचक के जयबहादूर सिंह मछली के व्यवसाय से जुड़े थे।

वह स्वयं मछली पालन का काम करते थे। गांव के चंवर में वह मछली पालने के लिए तालाब की खुदाई करवाए थे जिसमें वह मछली पालने का काम करते थे। प्रतिदिन की तरह वह शुक्रवार की सुबह भी चाय पीने के लिए बाइक से सबेया मोड़ पर जा रहे थे तब तक बदमाशों ने उनकी हत्या कर दी। हत्या के पीछे क्या कारण है अभी स्पष्ट नहीं हो सका है लेकिन चर्चा है कि हत्या के पीछे रंगदारी की बात हो सकती है। हथुआ एसडीपीओ नरेश कुमार ने बताया कि पुलिस मामले की गहराई से जांच कर रही है।