छपरा मंडलकारा में भारी पुलिस बल के साथ डीएम, एसपी ने 2 घंटे तक की छापेमारी

0
police

छपरा: छपरा मंडलकारा के कैदी अभी सोए ही थे कि तभी भारी संख्या में पुलिस बल के साथ छापेमारी शुरू हो गई. देखकर कैदियों में हड़कंप मच गया. यह छापेमारी करीब 2 घंटे तक चलती रही. जिसमें छपरा मंडल के सभी वार्ड एवं परिसर की गहन तलाशी ली गई. हालांकि इस दौरान कोई आपत्तिजनक सामान बरामद नहीं किया गया. क्योंकि बीते दिन छपरा मंडल कारा में निरुद्ध बंदियों के द्वारा मोबाइल चलाने का फोटो वायरल होने के बाद विगत दिन मंडल कारा अधीक्षक मनोज कुमार सिन्हा के द्वारा मंडल कारा के एक-एक वार्ड की गहन तलाशी ली गई थी. उस दौरान अलग-अलग वार्डो से कुल 6 मोबाइल फोन बरामद किए गए थे. उस मामले में मंडल कारा अधीक्षक के द्वारा अविनाश राय, रूपेश सिंह, नितेश कुमार सिंह, अनिल कुमार, सुनील कुमार, एवं रोहित कुमार सहित 6 बंदिओं के खिलाफ भगवान बाजार थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

फलस्वरुप पुलिस को मंडल का राशि कुछ आपत्तिजनक सामान बरामद नहीं हो सका. इस दौरान मंडल कारा अधीक्षक श्री सिन्हा ने बताया कि छापेमारी सुबह 5:00 से लेकर 6:40 तक चली है. छापेमारी में सारण जिला अधिकारी डॉ नीलेश रामचंद्र देवरे, एसपी संतोष कुमार, पुलिस अनुमंडल पदाधिकारी एमपी सिंह, मढौरा पुलिस अनुमंडल पदाधिकारी इंद्रजीत बैठा के साथ भगवान बाजार एवं नगर थाना के पुलिस बल मौजूद रहे. 35 प्रशासनिक पदाधिकारी समेत 275 पुलिसकर्मियों की टीम ने की छापेमारी छपरा मंडल कारा में 1 घंटे और 40 मिनट चली छापेमारी के दौरान भारी संख्या में पुलिस बल मौजूद थे.

इस छापेमारी की प्लानिंग पूर्व में कर ली गई थी. जिसके कारण सुबह के 5:00 बजते ही मंडल कारा में छापेमारी प्रारंभ हो गई. जिसको लेकर सारण डीएम, एसपी एवं एसडीपीओ के साथ कुल 35 अधिकारी मौजूद रहे. वहीं मंडल कारा के चप्पे-चप्पे की तलाशी को लेकर टीम में 240 पुलिस के जवानों को साथ रखा गया था. जिससे कि मंडल कारा के चप्पे-चप्पे को खंगाला जा सके. लेकिन प्रशासन को कुछ आपत्तिजनक सामान हाथ नहीं लगा. क्योंकि विगत दिन मंडल कारा अधीक्षक के द्वारा गहन तलाशी के बाद 6 मोबाइल को जब्त किया गया था. वहीं बीते दिन मंडल कारा से कैदियों का मोबाइल चलाते हुए फोटो वायरल होने के बाद मंडल कारा में लगातार छापेमारी की जा रही है.