डॉक्टर अशरफ अली अंसारी ने किया निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में अपना नामांकन

0

परवेज अख्तर/ सीवान:
बड़हरिया विधानसभा क्षेत्र से डॉ अशरफ अली अंसारी ने निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में अपना नामांकन मंगलवार को दाखिल किया। बड़हरिया स्थित अपने आवास से सैकड़ों समर्थकों के साथ नामांकन स्थल पहुंचे। जहां प्रशासनिक पदाधिकारियों के बीच अपना नामांकन पत्र दाखिल किया। इस दौरान बड़हरिया बाजार में उनके समर्थकों द्वारा अशरफ अली संघर्ष करो, हम तुम्हारे साथ हैं आदि नारे लगते रहे। यहां बताते चले कि कल तक जिसने महागठबंधन के टिकट के लिए प्रयासरत थे। आज वही महागठबंधन के खिलाफ बिगुल फूंकते हुए अपना नामांकन पत्र दाखिल कर डाला। बतादें कि महीनों पूर्व डॉ अशरफ अली अंसारी ने राजद के शीर्ष नेताओं के समक्ष राजद पार्टी की सदस्यता ग्रहण की थी तथा क्षेत्रों में लगातार राजद के बैनर तले चुनावी प्रचार प्रसार में लगे हुए थे।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 7.27.12 PM
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

dr asraf ali

लेकिन पार्टी ने इन्हें दूध में पड़े मक्खी की तरह निकाल कर फेंक दिया। तथा इन्हें टिकट से वंचित कर हाल ही में राजद की सदस्यता ग्रहण करने वाले श्री बच्चा जी पांडे को पार्टी का सिंबल बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के पुत्र तेजस्वी यादव के हाथों सोमवार को दे दी गई। श्री बच्चा जी पांडे को सिंबल मिलने की भनक जैसे ही डॉ अशरफ अंसारी को लगी तो उन्होंने अपने समर्थकों के सुझाव पर बड़हरिया विधानसभा क्षेत्र से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में अपना नामांकन पत्र दाखिल करने का निर्णय लिया। अंततः मंगलवार की दोपहर डॉ अशरफ अंसारी ने अपना नामांकन पत्र दाखिल कर डाले। डॉ अशरफ अली अंसारी से पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि बड़हरिया के आवाम पर मुझे पूर्ण रूप से भरोसा है। मेरी जीत सुनिश्चित है मैं लगातार कई वर्षों से एक चिकित्सक के रूप में गरीबों को सेवा देते आया हूं।आम जनमानस इस मजदूरी का जवाब ईवीएम का बटन दबा कर देगी।

उन्होंने किसी भी पार्टी पर कटाक्ष न करते हुए कहा कि जनता जिसके साथ है वही नेता है। अंत में उन्होंने कहा कि अगर बड़हरिया की आवाम ने मुझे अवसर दिया तो मैं सभी वर्गों को एक सूत्र में पिरो कर चलने का काम करूंगा तथा बड़हरिया विधानसभा क्षेत्र के प्रत्येक गांव गांव में विकास की रोशनी जगमगा दूंगा। उन्होंने अंत में कहा कि मैं गरीब का बेटा हूं मुझे गरीबो का दुःख-दर्द समझने का ख्याल हाल है।गरीबों की मदद करना मेरी पहली प्राथमिकता होगी।