डुमरी की सड़क जलजमाव का शिकार, ग्रामीणों में रोष

0
jal jamav

परवेज अख्तर/सिवान :- जिले के बड़हरिया प्रखंड में मॉनसून की बारिश के साथ जहां किसानों के चेहरे पर खुशियां झलकने लगी है. वहीं ग्रामीण अंचल की कच्ची सड़कों पर जलजमाव से ग्रामीणों की मुश्किलें बढ़ती नज़र आ रही हैं. विदित हो कि प्रखंड के डुमरी गांव के पूरब टोला में मुख्य सड़क पर जलजमाव होने से ग्रामीणों की परेशानियां बढ़ गयी हैं. डुमरी के ग्रामीणों का कहना है कि यह पहली बारिश नहीं है कि यहां के ग्रामीणों को जलजमाव को लेकर परेशानियां झेलनी पड़ रही है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

बल्कि हरेक बरसात में ग्रामीणों को महीनों जलजमाव का दंश झेलना पड़ता है.लोगों का घरों से निकलना मुश्किल हो जाता है.बताया जाता है कि बहादुरपुर को जोड़ने वाली यह मुख्य सड़क है जो डुमरी,भलुआड़ा व भेलपुर को जोड़ती है.ग्रामीणों का कहना है कि कोरोना जैसी महामारी के दौर में इस तरह महीनों जलजमाव का बना रहना पूरे गांव के लिए खतरा है.जलजमाव से बीमारियां हो जाने के खतरे से ग्रामीण भयभीत हैं.

बताया जाता है कि नंदकिशोर सिंह के घर के सामने सबसे ज्यादा जलजमाव होता है. वहीं से गांव के प्रावि डुमरी जाने का रास्ता है. ग्रामीणों का कहना है कि इस बदहाल रोड के निर्माण के लिए ग्रामीण सभी सक्षम प्रतिनिधियों व पदाधिकारियों से आग्रह कर थक चुके हैं. लेकिन आश्वासन के सिवाय कुछ नहीं मिला है. ग्रामीण नंदकिशोर सिंह, रामानंद सागर, इम्तियाज अंसारी आदि ने बताया कि जलजमाव से होने वाले खतरे से ग्रामीण सहमे हुए हैं.