बड़े बाप की बिगड़ी औलाद: इंटर पास छात्रों ने गैंगस्टर बनने का देखा सपना, मौज-मस्ती करने के लिए लूटे 3 लाख के जेवर

0

पटना: पटना के शास्त्रीनगर थाना क्षेत्र के शिवपुरी स्थित महावीर ज्वेलर्स में पिस्टल के बल पर लूटपाट करनेवाले बदमाश इंटर पास व रईसजादों के बेटे निकले। लूटपाट करनेवाले तीन लुटेरों शुभम, करण और आदित्य को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है जबकि चौथा बदमाश आशीष फरार है। पकड़े गए तीनों बदमाश कोचिंग कर इंजीनियरिंग व बी फार्मा की तैयारी कर रहे थे। इनके कब्जे से पुलिस ने ज्वेलरी दुकान से लूटे गए सोने-चांदी के जेवर, वारदात में इस्तेमाल दो बाइक, दो हैलमेट, पिस्टल, मैगजीन व 15 कारतूस भी बरामद किया है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

जिस लॉज में छिपे थे लुटेरे, उसी में 72 घंटे छात्र बनकर ठहरी पुलिस

एसएसपी उपेंद्र शर्मा ने बताया कि दो सितंबर की देर शाम महावीर ज्वेलर्स में पिस्टल के बल पर लूट की गई थी। चार अपराधी तीन लाख के जेवर व 28 हजार रुपये नकद लूट ले गए थे। जांच में पता चला कि अपराधी पुनाईचक के एक लॉज में छिपे हैं। इसके बाद उसी लॉज में एक कमरा किराए पर लेकर पुलिस छात्र बनकर करीब 72 घंटे तक ठहरी रही। सबूत पुख्ता मिलने पर पुलिस ने लॉज में छिपे शुभम, करण व आदित्य को गिरफ्तार कर लिया चौथा लुटेरा आशीष फरार मिला। शुभम, करण और आदित्य बोरिंग रोड के एक कोचिंग में पढ़ते थे। शुभम और करण पिछले 14 माह से लॉज में थे। आदित्य गर्दनीबाग के सुंदरी इंक्लेव अपाटमेंट के खुद के फ्लैट में रहता था।

धाक जमाने को बनना चाहते थे बड़ा अपराधी

अपराध से जुड़ी मूवी देखने के दौरान ही चारों ने लूट की बड़ी साजिश रची। उनका मकसद बड़ा अपराधी बनना था। वे मौज मस्ती करना चाहते थे। वे अक्सर अटल पथ होते हुए र्बोंरग रोड र्कोंचग के लिए जाते थे। लॉज से थोड़ी ही दूरी पर शिवपुरी में महावीर ज्वेलर्स की दुकान थी। करण, आदित्य और एक अन्य रेकी करने लगे। शुभम पिस्टल और बाइक के इंतजाम में जुट गया।

50 हजार में नवगछिया से खरीदी थी दो पिस्टल

पुलिस का दावा है कि घटना को अंजाम देने के लिए नवगछिया से दो पिस्टल खरीदी गई थी, जिसके बाद एक पिस्टल को 20 हजार में बेच दिया। जब पुलिस ने कमरे की तलाशी ली तो उसके वहां एक भी किताबें नहीं थी, लेकिन इसके अलावा सिगरेट के कई डिब्बे थे। तीनों का अबतक कोई आपराधिक इतिहास सामने नहीं आया है।

किराये के मकान में चलाते थे गैंग

महावीर ज्वेलरी में लूटपाट करने वाले बदमाश किराये के मकान में ही रहते थे और किराये के मकान में ही रहकर अपना गिरोह चला रहे थे। लूटकांड के इस मामले में गिरफ्तार किए जाने के बाद पुलिस ने इसका खुलासा किया है। पहले भी विभिन्न मामलों में पकड़े गए कई बदमाश किराये के मकानों से ही आपराधिक गतिविधियां संचालित करते थे।

लूटकांड में गिरफ्तार लुटेरे

शुभम कुमार: एफसीआई अधिकारी का बेटा

ग्राम: सिंधिया मकंदपुर चौक, थाना-गोपालपुर नवगछिया
वर्तमान पता: पोस्ट ऑफिस लेन, शास्त्रीनगर, पटना

करण कुमार: ठेकेदार का बेटा

खजुरिया मुफ्फसिल भोजपुर
वर्तमान पता: पुनाईचक पोस्ट ऑफिस लेन शास्त्रीनगर, पटना

आदित्य हर्षवर्धन: बिल्डर का बेटा

हार्उंसग कॉलोनी, चंदवा भोजपुर
वर्तमान पता-अनिसाबाद सुंदरी इन्क्लेव अपार्टमेंट गर्दनीबाग पटना