परिवार नियोजन: 14 दिन होम क्वॉरेंटाइन पूरा कर चुके प्रवासियों को मिलेगा कंडोम

0
condom
  • जिले में शुरू की गई पहल
  • डोर टू डोर स्वास्थ्य परीक्षण के दौरान दिया जाएगा कंडोम
  • पल्स पोलियो अभियान के तर्ज पर घर-घर जाकर किया जाएगा स्वास्थ्य परीक्षण

गोपालगंज: वैश्विक महामारी कोरोना संकट के बीच भी परिवार कल्याण कार्यक्रम को निरंतर संचालित किया जा रहा है। परिवार नियोजन कार्यक्रम को बढ़ावा देने के लिए गोपालगंज जिले में स्वास्थ्य विभाग की ओर से एक अच्छी पहल की शुरुआत की गई है। अब 14 दिनों का होम क्वॉरेंटाइन पूरा कर चुके प्रवासियों के बीच परिवार नियोजन के अस्थाई साधनों का वितरण किया जाएगा। डोर टू डोर स्वास्थ्य परीक्षण के दौरान पोलियो के सुपरवाइजर द्वारा 14 दिनों का होम क्वॉरेंटाइन पूरा कर चुके प्रवासियों को कंडोम दिया जाएगा। कंडोम सिर्फ उन्हीं को दिया जाएगा जो 14 दिनों का होम क्वॉरेंटाइन पूरा कर चुके हैं।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

condom (2)

परिवार नियोजन के प्रति करेंगे जागरूक

केयर इंडिया के परिवार नियोजन समन्वयक अमित कुमार ने बताया डोर टू डोर स्वास्थ्य परीक्षण के दौरान पोलियो अभियान के सुपरवाइजरो के द्वारा प्रवासियों को परिवार नियोजन के बारे में भी जानकारी दी जाएगी। साथ ही योग्य लाभार्थियों के बीच परिवार नियोजन के अस्थाई साधनों का वितरण भी किया जाएगा।

इन शहरों को छोड़ दूसरे जगह से आने वाले प्रवासी जाएंगे होम क्वॉरेंटाइन

दूसरे राज्यों से आने वाले प्रवासियों को क्वॉरेंटाइन में रखने के लिए श्रेणी का बंटवारा किया गया है। अब सूरत, अहमदाबाद, नोएडा, गुरुग्राम, गाजियाबाद, दिल्ली, मुंबई , फरीदाबाद, कोलकाता, बेंगलुरु से आने वाले प्रवासियों को ही संस्थागत क्वॉरेंटाइन में रखा जाएगा तथा अन्य राज्यों से आने वाले प्रवासियों को 14 दिन होम को क्वॉरेंटाइन रखा जाएगा। प्रवासियों को होम क्वारंटाइन में रख कर उन्हें 14 दिनों तक प्रतिदिन स्वास्थ्य परीक्षण किया जाएगा। इसको लेकर पोलियो के सुपरवाइजरों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है । प्रशिक्षण के दौरान ही सुपरवाइजरो को बीच कंडोम बॉक्स उपलब्ध कराई गई है। जो गृह भ्रमण के दौरान प्रवासियों के बीच वितरण किया जाएगा।

पल्स-पोलियो अभियान के तर्ज पर की जाएगी जांच 

डीपीएम धीरज कुमार ने बताया प्रवासियों के घर-घर स्वास्थ्य परीक्षण अभियान पल्स पोलियो अभियान के तर्ज पर चलाया जाएगा। 14 दिन परीक्षण के दौरान पर्यवेक्षकों द्वारा प्रवासियों के घरों में जाकर व्यक्तियों की स्क्रीनिंग की जाएगी।

चस्पाया जाएगा होम क्वॉरेंटाइन का पोस्टर

14 दिनों तक होम क्वॉरेंटाइन रहने वाले व्यक्तियों के घर के बाहर होम क्वॉरेंटाइन का पोस्टर चस्पाया जाएगा। उन्हें होम क्वॉरेंटाइन संबंधी पम्पलेट भी उपलब्ध कराई जाएगी। पर्यवेक्षक द्वारा 14 दिन तक चिपकाए गए पोस्टर पर तिथि सहित हस्ताक्षर किए जाएंगे।