बड़हरिया: कृषक वैज्ञानिक वार्तालाप 2020 -21 का हुआ आयोजन, दी गयी नयी तकनीकी की जानकारी

0

परवेज अख्तर/सिवान : जिले के बड़हरिया प्रखंड के कैलगढ दक्षिण पंचायत के मलिक टोला गांव के अभिनव पुरस्कार से पुरस्कृत किसान मुकेश कुमार दरवाजे पर गुरुवार को आत्मा सौजन्य से प्रखंडस्तरीय रबी कृषक वैज्ञानिक वार्तालाप 2020- 21 का आयोजन किया गया. बीटीएम डॉ सतीश कुमार,एटीएम सतीश सिंह, रविशंकर सिन्हा, दीपशिखा की देखरेख में व आत्मा के परियोजना निदेशक शिलाजीत सिंह, उप परियोजना निदेशक केके चौधरी व कृषि विज्ञान केंद्र भगवानपुर हट से आए वैज्ञानिक की उपस्थित थे. कार्यक्रम का संचालन एटीएम सतीश सिंह ने की. कार्यक्रम का उद्घाटन कृषि विज्ञान केंद्र भगवानपुर हाट से आए हुए वैज्ञानिक डॉ अनुराधा रंजन श्रीवास्तव, परियोजना निदेशक श्री सिंह व उपपरियोजना निदेशक श्री चौधरी ने दीप प्रज्वलित कर किया. इस कार्यक्रम में कृषि विज्ञान केन्द्र के अध्यक्ष सह वैज्ञानिक डा. अनुराधा रंजन श्रीवास्तव द्वारा खेती की नई तकनीकी के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी गई.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

वहीं वैज्ञानिक डॉ एसके मंडल ने उद्यान व बागवानी के महत्व व आवश्यकता पर प्रकाश डाला. वैज्ञानिक डॉ मंडल ने पौधा प्रजनन के बारे में भी विस्तार पूर्वक जानकारी दी. जबकि वैज्ञानिक डॉ सुनील क्षेत्री आधुनिक खेती के लिए कृषि यांत्रिकीकरण के बारे मेंं विशेष जानकारी देते हुए अत्याधुनिक कृषि यंत्रों के उपयोग पर बल दिया. वहींं परियोजना निदेशक शिलाजीत सिंह ने जल जीवन हरियाली,जैविक खेती,बेस्ट डी कम्पोज़र आदि पर किसानों को जागरूक करते हुए बताया इससे हमारे जीवन व स्वास्थ्य पर साकारात्मक प्रभाव पड़ेगा. साथ ही वातावरण शुद्ध भी रहेगा. उपपरियोजना निदेशक केके चौधरी ने आत्मा विभाग की सभी योजनाओं के बारे में विस्तृत जानकारी दी.उन्होंने कहा कि कृषि विभाग व अन्य योजनाओं का लाभ लेने के लिए किसान अधिक से अधिक पंचायत में समूह बनाकर इसका लाभ आसानी से ले सकते हैं.

कार्यक्रम में आत्मा सीवान सौजन्य से प्रखंडस्तर पर समूह बनाकर समूह के प्रगतिशील किसानों द्वारा कृषि के क्षेत्र में ड्रिप सिंचाई के क्षेत्र में स्प्रिंकलर सिंचाई के क्षेत्र में मल्चिंग सब्जी की खेती, मशरूम के क्षेत्र में मशरूम की खाद व मशरूम उत्पादन, जीरो टीलेज मशीन से गेहूं की बुवाई करने वाले किसानों को प्रशस्ति पत्र व गिफ्ट देकर सम्मानित किया गया. बैठक में प्रखंड के सभी कृषक समूह के किसानों ने भाग लिया. साथ ही, मुकेश द्वारा किए गए एफएलडी में लगी शिमला मिर्च की खेती,खीरा की खेती, बायो फ्लॉक से मछली पालन, टमाटर की खेती, गोभी बीज उत्पादन सहित सब्जी के विभिन्न प्रकार की खेती का निरीक्षण किया गया. इस अवसर पर किसान बृजकिशोर शर्मा, जवाहरलाल यादव,वैद्यनाथ यादव, राजाराम सिंह बृज कुमार सिंह, मनोज यादव, कुणाल कुमार, हरेश प्रसाद, ललन प्रसाद, सतीश कुमार सिंह, हरेराम सिंह, लक्ष्मण सिंह सहित कैलगढ़ दक्षिण व उत्तर के पंचायतों के किसान उपस्थित थे.