फॉलोअप:  हुसैनगंज के तेतरिया गांव में घर के अंदर बंधक बने पिता-पुत्र को मुक्त कराने पहुंची पुलिस पर हुआ था पथराव

0
  • पीसीसी निर्माण में धांधली को लेकर जिला योजना पदाधिकारी के पास दिए आवेदन को लेकर दिया गया घटना को अंजाम
  • घर के अंदर बंधक बने चिकित्सक व इनके पिता को मुक्त कराने पहुंची थी हुसैनगंज थाने की पुलिस

परवेज अख्तर/सीवान: जिले के हुसैनगंज थाना क्षेत्र के तेतरिया गांव में मंगलवार की देर संध्या प्रखंड क्षेत्र के सिधवल पंचायत के पूर्व मुखिया व इनके परिजनों द्वारा गांव के एक चिकित्सक समेत पूरा परिवार को उसके घर के अंदर ही बंधक बना लिया. बंधक बनाने से पूर्व लोगों ने उसके घर पर पथराव किया और दहशत फैलाने के उद्देश्य से घर के पीछे ताबाड़तोड़ फायरिंग की. गोलियों की तड़तड़ाहट से गांव में अफरा-तफरी का माहौल कायम हो गया. लोग इधर-उधर छिपकर अपनी अपनी जान बचाने पर आतुर हो गए.प्राप्त जानकारी के मुताबिक तेतरिया गांव निवासी चिकित्सक डॉ मो वसीम रजा ने ग्राम पंचायत राज सिधवल से तेतरिया मस्जिद एवं तेतरिया मदरसा तक बनने वाले पीसीसी सड़क निर्माण कार्य में अनियमितता एवं घटिया किस्म के सामग्री इस्तेमाल किए जाने को लेकर जिला योजना पदाधिकारी के यहां 20 अक्तूबर 2020 को एक आवेदन दिया था.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

avedan 1 1

दिए गए आवेदन में डॉक्टर ने आरोप लगाया था कि सिधवल पंचायत के पूर्व मुखिया किताबउद्दीन खान द्वारा उक्त निर्माण कराया जा रहा है, जो मानक के अनुसार नहीं है. निर्माण कार्य की जांच करा कर अविलंब कार्रवाई कराई जाए. इसी बात को लेकर बुधवार की देर संध्या डॉक्टर मो. वसीम रजा अपने दरवाजे पर अपने बच्चों को खेला रहे थे कि पूर्व मुखिया किताबउद्दीन खान, सलमान खान, जहीर खान, हदीश खान तथा अन्य अज्ञात लोग अपने अपने हाथों में हथियार लेकर आ धमके.इसी बीच पूर्व मुखिया किताबउद्दीन खान व इनके परिजनों ने डॉक्टर व इनके बुजुर्ग पिता बाबुद्दीन खान को बेरहमी से पिटाई कर डाली. जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गए. बाद में उपस्थित ग्रामीणों ने बीच-बचाव कर मामले को शांत कराने की कोशिश की, तबतक डॉ मो वसीम रजा किसी तरह जान बचाकर अपने घर में छुप गए और अपने घर के दरवाजे को चारों तरफ से बंद कर लिया.

बौखलाए पूर्व मुखिया तथा इनके साथ आए लोगों ने डॉ मो वसीम रजा के घर पर जबरदस्त तरीके से पथराव शुरू कर दिया तथा दहशत फैलाने के उद्देश्य से इनके घर के पीछे जबरदस्त तरीके से फायरिंग की. जिससे गांव में अफरा-तफरी का माहौल कायम हो गया. उधर लगातार हो रही फायरिंग की घटना की सूचना डॉक्टर ने स्थानीय हुसैनगंज थाना पुलिस को दी. सूचना पाकर पहुंची पुलिस टीम काफी मशक्कत के बाद अपने ही घर में बंधक बने डॉक्टर को अपने कब्जे में लेकर घायल अवस्था में इलाज कराने के लिए सीवान सदर अस्पताल ला रही थी कि इसी बीच पूर्व मुखिया व उनके समर्थकों ने पुलिस जीप पर पथराव करते हुए दौड़ाना शुरू कर दिया. जिससे पुलिस टीम किसी तरह जान बचाकर वहां से भागी. आक्रोशित पुलिस जीप से घायल डॉक्टर को खींचकर मौत के घाट उतारना चाह रहे थे.

मारपीट में उनके पिता बाबुद्दीन खान भी घायल हुए हैं. दोनों घायलों को पुलिस की मौजूदगी में मंगलवार की देर रात्रि तक इलाज कराया गया. जहां घायल चिकित्सक डॉक्टर की हालत गंभीर बताई गई है. चिकित्सकों के अनुसार इनके छाती पर चाकू के गहरे निशान हैं. उधर सदर अस्पताल प्रशासन द्वारा घायलों के फर्द बयान के लिए ओडी स्लिप स्थानीय नगर थाना को भेजी है. उधर ओडी स्लिप प्राप्त होते ही नगर थाने में पदस्थापित अवर निरीक्षक अजय कुमार ने घायल चिकित्सक डॉक्टर वसीम रजा का फर्द बयान लिया. दर्ज फर्द बयान में उपरोक्त बातों का जिक्र किया गया है. जबकि फर्द बयान में सिधवल पंचायत के पूर्व मुखिया किताबउद्दीन खान, सलमान खान,जहीर खान तथा हदीश खान एवं अन्य अज्ञात लोगों को आरोपित किया गया है.

क्या कहती हैं थानाध्यक्ष

थाना क्षेत्र के तेतरिया में ग्रामीणों ने पुलिस बल पर पत्थरबाजी किया था.  दोषी लोगों के विरुद्ध थाने में एफआईआर दर्ज कर कार्यवाही की जा रही है.

पुनम कुमारी, 

डीएसपी सह थानाध्यक्ष, हुसैनगंज