गोपालगंज: अंकित अपहरण कांड में 6 अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार

0

गिरफ्तार अपराधियों में सिवान के कई अपराधी है शामिल

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

गोपालगंज: पुलिस ने जिले के चर्चित अंकित अपहरण कांड का खुलासा किया है। इस मामले में पुलिस ने अपराधियों को स्कॉर्पियो वाहन सहित हथियार और जिंदा कारतूस के साथ गिरफ्तार क्या है। बता दें कि जिले के मीरगंज थाना क्षेत्र के मानिकपुर गांव निवासी मनोज सिंह के पुत्र अंकित कुमार का अपहरण ट्यूशन जाने के दौरान सुबह 6:00 बजे चार पहिया वाहन सवार अपहरणकर्ताओं ने कर ली थी। हालांकि अपहरण की शिकायत पिता के द्वारा अहले सुबह 6:30 पर दूरभाष के माध्यम से मीरगंज थाना अध्यक्ष को दी गई, अपहरण की सूचना मिलने के बाद मीरगंज थाना अध्यक्ष ने इस घटना की जानकारी अपने वरीय पदाधिकारियों को प्रेषित की वह इस मामले में पिता ने स्थानीय मीरगंज थाने में लिखित शिकायत दर्ज सोमवार को कराई थी। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस अधीक्षक आनंद कुमार और हथुआ अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी नरेश कुमार घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की छानबीन में जुट गए। मामले को पेचीदा देखते हुए गोपालगंज एसपी आनंद कुमार ने त्वरित तकनीकी सेल और एक टीम का गठन किया।

सभी जिले के सभी संबंधित थाना को सतर्क करते हुए नाकेबंदी कर चेकिंग अभियान चलाने का निर्देश पुलिस अधीक्षक ने दिया। वही गोपालगंज एसपी आनंद कुमार ने इस घटना की जानकारी डीआईजी सारण मनु महाराज को दी गई। वही वार्ता के दौरान पुलिस अधीक्षक ने यह भी बताया है कि डीआईजी सारण के द्वारा त्वरित कार्रवाई करते हुए गोपालगंज जिला बल सिवान जिला बल एवं पुलिस पदाधिकारियों को संयुक्त टीम बनाकर सघन तलाशी अभियान चलाने का निर्देश मनु महाराज ने दीया। वही अपहरण की घटना की जांच में जुटी पुलिस कोई गुप्त सूचना प्राप्त हुई थी कि इस कांड में सिवान जिले के आंदर थाना क्षेत्र के भौवं राजपुर गांव निवासी फखरुद्दीन राय का पुत्र एहसान राय इस घटना में शामिल है। उसके बाद पुलिस ने उपलब्ध सीसी फुटेज और तकनीकी सेल की मदद से अपराधियों के छिपे होने की सूचना पुलिस को सिवान जिले में मिली। उसके बाद पूरे सिवान जिला की पुलिस ने नाकेबंदी कर दी वही टीम में शामिल पुलिसकर्मियों ने तकनीकी तेल की मदद से संदिग्ध गाड़ी को चिन्हित कर अपराध कर्मियों का पीछा करना शुरू कर दिया। पुलिस से चारों तरफ घिरते देख बदमाशों ने अपहरण किए गए छात्र अंकित कुमार को बीच सड़क पर ही छोड़ कर वहां से फरार हो गए।

पुलिस से घिरता देख अपराधी बदलने लगे रास्ते

वही अपहरण किए गए छात्र को बीच सड़क पर छोड़ते हुए अपराधी वहां से फरार हो गए । हालांकि टेक्निकल सेल बदमाशों के हर गतिविधि पर अपनी नजरें जमाए हुए उनकी छापेमारी कर रही थी। लेकिन बदमाशों ने कुछ घंटे बाद दो तीन रास्ते में बट गए। इसी बीच पीछा कर रही पुलिस ने एहसान राय को गिरफ्तार कर लिया एहसान राय के पास में प्रयुक्त मोबाइल बरामद होने के बाद पुलिस ने लोकेशन लेते हुए घटना में शामिल अपराधी अंकित कुमार, इरफान अली और सागर उर्फ मन्नु कुमार को घटना में प्रयुक्त हथियार, अपहृत छात्र का मोबाईल एवं स्कूल बैग तथा घटना में प्रयुक्त स्कॉर्पियो के साथ गिरफतार कर लिया।