गोपालगंज: पैक्स चुनाव की रंजिश में निर्वाचित अध्यक्ष के करीबी की हथियारबंद हमलावरों ने गोली मारकर कर दी हत्या

0

दो बाइक के साथ घात लगाए चार हमलावरों ने कर दी फायरिंग

गोपालगंज: हाजीपुर में पुलिस को चैलेंज कर गोली मारकर फाइनेंसकर्मी की हत्या के प्रयास की घटना के चौबीस घंटे भी नहीं बीते थे कि भगवानपुर थाना क्षेत्र में दो बाइक के साथ चार की संख्या में घात लगाए हथियारबंद हमलावरों ने महुआ तरफ से बाइक से आ रहे बाइक सवार की गोली मारकर हत्या कर दी। थाना क्षेत्र के रघुनाथपुर-इमादपुर के चतरा पुल के समीप एनएच 22 पर इस घटना को अंजाम दिया। गोली मारने के बाद चारों अपराधी भगवानपुर ओर भाग चले। मृतक करीब 42 वर्षीय रजनीश चंद्र सिंह उर्फ गोपाल कुमार भगवानपुर थाना क्षेत्र के ही बिठौली गांव निवासी स्वर्गीय विंदा सिंह के पुत्र बताए गए हैं। उनके पीछे बाइक पर बैठे उसी गांव के स्व. नंदा सिंह के पुत्र राजीव कुमार सिंह उर्फ सोनू गोलीबारी में बाल-बाल बचे।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

बाइक रोक कर कनपट्‌टी में गोली मारी

बताया गया कि मृतक गोपाल कुमार सिंह गुरुवार की सुबह गांव के ही स्वर्गीय नंदा सिंह के पुत्र राजीव कुमार सिंह उर्फ सोनू के साथ बाइक से महुआ गए थे। अपना काम निबटा कर दोनों ही वापस घर लौट रहे थे । इसी दौरान इमादपुर चतरा पुल के समीप दो बाइक लगी थी। जैसे ही गोपाल और सोनू की बाइक वहां पहुंची अचानक चार लोग सामने आकर बाइक रोक लिया। बाइक गोपाल ही ड्राइव कर रहे थे। सोनू पीछे बैठे थे। उन चारों में से एक गोपाल के एकदम करीब आकर कनपट्‌टी में पिस्तौल सटाकर गोली मार दी। गोली लगने के साथ ही बाइक के साथ गोपाल और सोनू गिरे। गिरने के साथ ही गोपाल की मौत हो गई थी। टारगेट फिनिश करने के बाद हमलावर भगवानपुर की ओर भाग निकले।

मामले की छानबीन की जा रही: एसडीपीओ

घटना के संबंध में एसडीपीओ सदर राघव दयाल ने बताया कि हाल ही में संपन्न हुए पैक्स चुनाव की रंजिश में हत्या की बात कही जा रही है। मामले की छानबीन की जा रही है। मृतक के परिजन का फर्दबयान या आवेदन मिलते ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।

दिनदहाड़े हत्या की वारदात से लोग उबले

घटना में बाइक से गिरने से पीछे बैठा सोनू भी मामूली रूप से घायल हो गए। उन्होंने मदद के लिए चीखना-चिल्लाना शुरू किया, ताकि गोपाल को अस्पताल ले जाया जा सके। देखते ही देखते ही सैकड़ों की भीड़ जुट गई। कनपट्‌टी में गोली लगने के कारण गोपाल चीख भी नहीं पाए थे। तत्काल ही उनकी मौत हो गई थी। दिनदहाड़े हत्या की वारदात से लोग आक्रोशित हो उठे। आक्रोशित ग्रामीणों ने घटनास्थल से सटे एनएच 22 फोरलेन को जाम कर दिया। सूचना मिलने के साथ ही पुलिस व एसडीपीओ राघव दयाल भी मौके पर पहुंचे। आक्रोशित लोग पुलिस को शव को हाथ लगाने भी नहीं दे रहे थे। एसडीपीओ ने समझाकर शांत कराया।

चश्मदीद ने चुनावी रंजिश हत्या का कारण बताया

घायल सोनू के अनुसार अपराधी दो बाइक पर चार की संख्या में थे। घटना को अंजाम देने के बाद चारों अपराधी भगवानपुर की ओर भाग चले। सोनू ने बताया कि वे अपराधियों को पहचानते हैं। हत्या का कारण उन्होंने पैक्स चुनाव की रंजिश बताया है। बताया है कि उनकी पत्नी रीना सिंह अभी तीन दिन पहले रघुनाथपुर इमादपुर से पैक्स अध्यक्ष निर्वाचित हुई हैं। चुनाव में जीत दिलाने में मृतक गोपाल सिंह की अहम भूमिका रही है। चुनाव में मिली हार को उनके विरोधी सहन नहीं कर पाए। उन लोगों ने घात लगाकर हमला किया। हमलावरों की मंशा उन्हें भी मारने की थी। गोली की आवाज सुनकर लोगों को आते देख हमलावर भाग निकले।

गोपाल पर भी कई मामले थे दर्ज

घटनास्थल के आसपास के लोगों के अनुसार हमलावरों ने गोपाल को ही टारगेट कर रखा था। दोनों कहां गए, किस रास्ते लौंटेंगे, इसकी पूरी जानकारी रेकी कर उनलोगों ने जुटा रखी थी। घटनाक्रम की परिस्थितियां साफ बता रही है कि हमलावर चार की संख्या में थे। उनके पास पर्याप्त समय था, वे चाहते तो दूसरी गोली सोनू को मार सकते थे। हमलावरों ने ऐसी कोई चेष्टा ही नहीं की। लोगों का कहना है कि पैक्स चुनाव में विरोध करने वाले लोगों से, सोनू अपना खुन्नस निकालने की कोशिश कर रहा है। चर्चा यह भी है कि गोपाल कुमार सिंह के विरुद्ध भगवानपुर थाना में वाहनों से रंगदारी वसूली के कई मामले दर्ज हैं। कुछ लोगों का यह भी कहना है कि गांव में भी रास्ते एवं जमीन को लेकर गोपाल का कुछ लोगों से विवाद चल रहा है। फिलहाल पुलिस सोनू की बात पर ही यकीन कर कार्रवाई शुरू कर दी है। आरोपियों के बिठौली गांव स्थित घरों पर छापामारी की पर कोई पकड़ में नहीं आया।