गोपालगंज : सम्मान समारोह में सम्मानित किए गए मध् निषेध उत्पाद एवं निबंधन मंत्री

0

गोपालगंज : भोरे निवासी पंडित शम्भूशरण द्विवेदी के आवास पर एक सम्मान समारोह आयोजित की गई।जिसमें बिहार सरकार के मध् निषेध उत्पाद एवं निबंधन मंत्री सुनील कुमार का कार्यकर्ताओ एवं क्षेत्र के गणमान्य ब्यक्तियों द्वारा फूलमाला और अंगवस्त्र देकर सम्मानित किया गया।समारोह का प्रारंभ बैदिक आचार्यों द्वारा मंगलाचरण करते हुए तिलक चन्दन लगाकर किया गया। सम्मान समारोह की अध्यक्षता मार्कण्डेय तिवारी एवं संचालन विश्वरंजन स्वरूप पाठक ने की।कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जितेंद्र पाठक ने कहा कि जिस तरह दहेज प्रथा कानून केवल सरकार के लागू करने से नही होगा इसको खत्म करने के लिए समाज के लोगों का आगे आना होगा।पहले सुधार अपने करते हुए आम लोगों को जागरूक करना होगा।ठीक उसी तरह नशा मुक्त बिहार बनाने के लिए सरकार द्वारा लागू शराबबंदी कानून सफल तभी होगा जब हम समाज के लोगों को जागरूक करेंगे,समझाएंगे एवं शराब पीने से नुकसानों के बारे में सबको बताएंगे।मंत्री को उचित सम्मान तब मिलेगा जब हमलोग नशामुक्त भोरे बना दें।वही सेवानिवृत्त कैप्टेन द्विजेन्द्र पाण्डेय ने कहा कि जहां तक मैं जानता हूं कि मंत्री जी का परिवार पूर्व से ही जमीन से जुड़ा हुआ है।इनके पिता चन्द्रिका राम भी भोरे से विधानसभा का प्रतिनिधित्व करते हुए मंत्री पद पर काबिज हुए थे।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

इस परिवार में जनता की सेवा का भावना कूट कूटकर भरा हुआ है।अंत मे कार्यक्रम के आयोजक राजेन्द्र द्विवेदी ने कहा कि बड़ा होने और बड़ा बनने में बड़ा ही फर्क होता है,लेकिन हमारे मंत्री जी बड़े है और बड़े दिखते भी।मैं ये नही कहता कि छः महीने में ही आप सभी सड़क,पुल, अस्पताल बनवा दें लेकिन आप मंत्री है तो जनता में आपके रहने का एहसास जरूर होना चाहिए।सम्मान समारोह के मुख्य अतिथि मंत्री सुनील कुमार ने अपने संबोधन में कहा कि सर्वप्रथम मैं धन्यवाद आम जनता को देता हूं जिन्होंने मुझे जिताकर विधानसभा में भेजने का काम किया।मैं अपने बड़े भाई अनिल कुमार का भी आभार ब्यक्त करता हूं जो मेरे लिए अपने पद का त्याग कर मेरा मदद किए।मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के प्रति भी आभार प्रकट करते हुए कहा कि मेरे सेवानिवृत्त होने के बाद आपने मुझे इस योग्य समझा और भरोसा किया।वही मंत्री ने अंत मे कहा कि मैं तो चुनाव पूर्व ही आम जनमानस से यह वादा किया कि मुझसे जितना ही हो पाएगा मैं उतना तो जरूर करूँगा।धन्यवाद ज्ञापन शंभुशरण द्विवेदी ने की।समारोह में सुरेन्द्र तिवारी,लक्ष्मण मिश्र,शत्रुध्न प्रसाद गुप्त,पंडित बिरेन्द्र शुक्ल,सत्यप्रकाश तिवारी,आनंद मिश्र,मनोज तिवारी,विवेकानंद पाण्डेय,बिनोद सिंह,बिश्वनाथ सिंह,मुख्तार मास्टर,भृगुनाथ शुक्ल,अरबिंद मिश्र,चन्द्रिका राम,आनंद पाण्डेय,देवानंद तिवारी,सत्येंद्र सिंह,बृंदा सिंह,बिरेन्द्र चौरसिया,भूपेन्द्र शाही,कृष्णा ओझा,केशव मिश्र,संजय पाण्डेय, राकेश दूबे आदि लोग मौजूद थे।