गोपालगंज: बेखौफ अपराधियों ने होमगार्ड जवान को गोलियों से भूनकर मौत के घाट उतारा

0

गोपालगंज: जिले में अपराधियों ने पुलिस को खुली चुनौती दी है। पुलिस से बेखौफ अपराधियों ने एक होमगार्ड जवान को गोलियों से भूनकर मौत के घाट उतार दिया है। गोपालगंज नगर थाने के एकडेरवा गांव में इस वारदात को अंजाम दिया गया। होमगार्ड के जवान भोला सिंह (55 वर्ष) अपनी बाइक लेकर घर से ड्यूटी पर जाने के लिए निकले थे। घर से निकलने के थोड़ी ही दूर बाद अपराधियों ने उन्‍हें गोली मार दी। इस घटना के बाद जख्मी होमगार्ड को इलाज के लिए गोपालगंज सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान जवान की मौत हो गई। बताया जा रहा है इस जवान पर करीब दो महीने पहले भी जानलेवा हमला किया गया था।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

नवंबर महीने में मॉर्निंग वॉक के दौरान भी मारी गई थी गोली

इस होमगार्ड जवान पर पिछले नवंबर महीने में भी हमला हुआ था। तब मॉर्निंग वॉक के दौरान होमगार्ड जवान पर तीन राउंड गोली चलाई गई थी। जवान ने भागकर किसी तरह अपनी जान बचाई थी। तब जवान को सिर्फ एक ही गोली लगी थी और इलाज के बाद वे बचा लिए गए थे। इस मामले में कुख्‍यात संजय सिंह और राजकिशोर पर आरोप लगाया गया था। ये दोनों लोग भी एकडेरवा गांव के ही हैं।

स्‍वजनों का आरोप- पुलिस की लापरवाही से हुई हत्‍या

होमगार्ड जवान के स्‍वजनों का कहना है कि यह हत्‍या पुलिस की लापरवाही से हुई है। अगर पुलिस नवंबर महीने में ही तत्‍परता से कार्रवाई करती तो अपराधी दोबारा इतनी हिम्‍मत नहीं जुटा पाते।

जमीन विवाद और रंगदारी से जुड़ा मामला होने का अंदेशा

पिछली बार हमले के बाद होमगार्ड जवान ने पुलिस को बताया था कि पांच लाख रुपये रंगदारी में नहीं देने पर अपराधियों ने उनपर हमला किया। ये रुपये कथित तौर पर एक मकान का निर्माण जारी रखने के लिए मांगे गए थे।

हत्‍या से नाराज स्‍वजनों और गांव वालों ने रोड जाम कर किया हंगामा

होमगार्ड जवान की हत्‍या से गुस्‍साये गांव वालों और स्वजनों ने गोपालगंज के पोस्ट ऑफिस मोड़ को जाम कर हंगामा शुरू कर दिया। हंगामा कर रहे लोगों का कहना था कि पुलिस हत्‍यारों को जल्‍द से जल्‍द गिरफ्तार करे। सड़क जाम की सूचना मिलत ही गोपालगंज के एसडीपीओ नरेश पासवान व नगर इंस्पेक्टर प्रशांत कुमार तुरंत मौके पर पहुंचे। दोनों ने गुस्‍साये लोगों को समझा-बुझा कर हंगामा खत्‍म करा दिया। इससे पहले कि पुलिस मामले की छानबीन में जुटती, गुस्‍साये लोगों ने थोड़ी ही देर बाद नगर थाना क्षेत्र में ही चैंप पट्टी के समीप नेशनल हाइवे को जाम कर दिया। इसके बाद हाइवे पर करीब आठ किलोमीटर तक वाहनों की कतार लग गई है। वक्‍त गुजरने के साथ ही जाम में फंसे वाहनों की कतार भी लंबी होती जा रही है।

गुस्‍साये लोगों को लगातार समझाने में जुटे हैं एसडीपीओ

एसडीपीओ ने मामले में तुरंत कार्रवाई का आश्‍वासन दिया है। उन्‍होंने कहा कि हत्‍यारों को पुलिस जल्‍द ही धर दबोचेगी। उन्‍होंने हंगामा कर रहे लोगों को सड़क से हटकर यातायात चालू करने की अपील की है। एसडीपीओ ने कहा कि लोग स्थिति को सामान्‍य होने दें तो पुलिस अपना सारा जोर अपराधियों को पकड़ने में लगा सकेगी। गोपालगंज के एसपी आनंद कुमार ने बताया कि आपसी रंजिश को लेकर गोली मारने की आशंका है। पूरे मामले की गहराई से जांच हो रही है। करीब तीन माह पहले भी होमगार्ड जवान को गोली मारी गई थी। इस मामले में आरोपित राजकिशोर सिंह को गिरफ्तार किया गया था। एक अन्य नामजद अभी फरार है।