गुठनी: रामदयाल हत्याकांड के आरोपित भाई-बहन गिरफ्तार

0
  • गिरफ्तार युवती व उसका भाई हत्याकांड में थे नामजद
  • परीक्षा देकर बाहर आने के क्रम में पुलिस दोनों भाई व बहन को किया गिरफ्तार

परवेज अख्तर/सिवान: गुठनी के सेमाटार गांव में हुयी रामदयाल मिश्र हत्याकांड में आरोपित पारस मिश्र के पुत्र निर्मल मिश्र व पुत्री खुश्बू मिश्रा को गुठनी पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया. खुश्बू मिश्रा मिश्रा परीक्षा देने के लिये अपने भाई निर्मल संग यूपी के बनकटा थाना क्षेत्र के राजेंदू बाबू कॉलेज बनकटिया गयी थी. खुश्बू बीए तृतीय वर्ष की परीक्षार्थी है.वादी पक्ष द्वारा पुलिस को उसके परीक्षा देने के लिये कालेज में होने की सटीक सूचना दी गयी थी जिसके आलोक में गुठनी ने बनकटा पुलिस को सूचीत करते हुये कालेज के आसपास निगरानी रखते हुये परीक्षा देकर बाहर निकली खुश्बू को गिरफ्तार कर तथा उसके निशानदेही पर बाहर उसकी प्रतीक्षा कर रहे भाई को भी गिरफ्तार कर लिया.गुठनी के सेमाटार गांव में हुयी दो पट्टीदारों के बीच भीषण मारपीट में रामदयाल मिश्र की मौत गयी थी और उनके भाई कैलास मिश्र ने गुठनी थानाकांड संख्या 74/22 के तहत पारस मिश्र और उनके बेटा-बेटी सहित कई अन्य को नामजद अभियुक्त बनाया था.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

उन्होंने थाने में दिये अपने आवेदन लिखा है मैं नित्य की भांति पूजा कर बरामदे में बैठा था और उसी क्रम में मेरे भाई रामदयाल, नागेंद्र भतीजा राकेश, विवेक मजदूरों के साथ मिल कर बाउंड्री का गेट लगा रहे थे. उसी दौरान पारस मिश्र, अरविंद मिश्र, निर्मल कुमार, रजनीश, खुश्बू कुमारी व पांच अज्ञात लोग हाथ में लाठी डंडा, धारदार हथियार लिये हमला कर दिये और सभी लोगों को पीटपीट कर अधमरा कर दिये. भाई रामदयाल को मृत समझ छोड़े और देशी कट्टा से चकिया गांव के शत्रुध्न तिवारी के गोली चलाने से कई लोग बाल बाल बचे तथा रामदयाल अपनी जान बचाकर भागे परंतु अन्य लोग घेर कर पीटते रहे. इस मामले में खुश्बू और निर्मल की गिरफ्तारी के बाद अब भी अन्य नामजद अभियुक्त फरार है.