हसनपुरा: शराब मामले में झूठा केस को ले न्याय को भटक रही पीड़िता

0

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के एमएच नगर थाना के मेरही निवासी रामभरोसा भगत की पत्नी आसमावती देवी ने स्थानीय प्रशासन द्वारा पति को शराब मामले में झूठा केस में फंसाने से नराज न्याय ले लिये भटक रही है. शनिवार को आंदर प्रभाग के इंस्पेक्टर रणधीर कुमार को आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाना चाही लेकिन वहां आवेदन नहीं लिया गया. कहा गया कि अपने स्थानीय थाने में आवेदन दीजिए. इस परिस्थिति में पीड़िता भटक रही है. पीड़िता ने अपने आवेदन में कहा है कि बीते 15 जून की शाम  एमएच नगर थाने के पुअनि अखिलेश सिंह मेरे गांव में गस्ती कर रहे थे.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ad-mukhiya
muskan buty

ठीक उसी समय एक बाइक चालक पुलिस के गाड़ी देख अपनी बाइक छोड़ हमारे मुर्गी फार्म के रास्ते पकड़ी की तरफ फ़रार हो गया. पुलिस उसे पकड़ना चाही मगर वह भाग गया. पुलिस ने एक थैला में रखा देसी शराब व बाइक को जब्त कर थाने लायी.फिर पुलिस ने गांव के दो लोगों को फर्जी हस्ताक्षर कर गवाह बनाकर मेरे पति राम भरोसा भगत को शराब मामले में आरोपित कर दिया. जबकि मेरे पति घटना के दिन दारौंदा उपस्वास्थ्य केंद्र पर अपने ससुर के इलाज में गए थे. गौरतलब हो कि बीते शुक्रवार को गांव के दर्जनों महिला व पुरूषों ने पुलिस की कारगुजारियों के खिलाफ थाना का घेराव किया था.