हसनपुरा: ग्रामीणों ने ठेकेदार को तालाब की मछली मारने से रोका

0
machhali ki maut

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के एमएच नगर थाना क्षेत्र के तेलकथू स्थित नवसृजित प्राथमिक विद्यालय स्थित शिव मंदिर के धूबई पोखरे में सैकड़ों ग्रामीणों ने ठीकेदार को मछली मारने पर रोक लगा दिया. ग्रामीणों के विरोध के अंदेशा से प्रखंड खे अरंडा निवासी व ठिकेदार मेराज शाह द्वारा अंचलाधिकारी व एमएच नगर थाने में आवेदन देकर गुहार लगाई थी. जिसमें बताया गया था कि उक्त स्थल स्थित धोबई पोखरा का डाक लिया हूं. जिसमें मछली पालन करता हूं. तभी ठीकेदार एमएच नगर पुलिस के साथ बुधवार को मछली मारने के पहुंच कर जाल के सहारे मजदूरों द्वारा मछली मरना शुरू कर दिया. तभी सैकड़ों की संख्या में महिला पुरुष एन मौके पर पहुंच कर मछली मारने का विरोध किया. ग्रामीणों का कहना है कि इस तालाब का डाक दो सालों से नहीं हो रहा है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

फर्जी रसीद दिखाकर मछली मारना चाहते है. थाने के पुअनि रामाय सोरेन द्वारा काफी समझाने बुझाने के बाद भी लोग नहीं माने. प्रशासन ने लोगों से कहा कि इनका उक्त तालाब का डाक हुआ है. आपलोग मछली मारने दीजिये. बावजूद प्रशासन की बातों को किसी ने नहीं माना. तत्पश्चात कई घंटों के बाद थाने के पुअनि द्वारा मछली पालक मेराज शाह को पुनः पोखरे में मछली पलटने को कहा. फिर मजदूरों ने पुन: तालाब में मछली छोड़ा तब लोग शांत हुए. उसके बाद सभी ग्रामीण घर चले गये. वही मछली पालक व प्रशासन बैरंग लौट गए. वहीं मेराज शाह ने बताया कि बीते 25 जुलाई 20 को डाक लिया था. जो कि इस डाक की अवधि आगामी 30 जून 21 तक है. उन्होंने यह भी बताया है कि संजय राम, अरुण कुमार व दुलम राम द्वारा चोरी छिपे मछली को मारते व पकड़ते रहते है. वही इस संदर्भ में मछली पालक कहना है कि मेरा मुआवजा बनता है. मैं इस मामले में प्राथमिक दर्ज जरूर करूंगा. पुलिस आवेदन लेकर मामले की जांच कर रही है.