हत्याकांड में फरार सेना के जवान की गिरफ्तारी के लिए बड़हरिया पुलिस जाएगी कश्मीर

0
वीरेंद्र यादव फाइल फोटो
वीरेंद्र यादव फाइल फोटो

डीआइजी ने लगाई बड़हरिया थाना अध्यक्ष को फटकार

मामला : मिठाई दुनकानदार हत्याकांड का

परवेज़ अख्तर/सिवान:- जिले के बड़हरिया बाजार के मिठाई दुकानदार वीरेंद्र कुमार यादव हत्याकांड में फरार चल रहे मृतक के चचेरा भाई सह साढू सेना के जवान उमेश कुमार यादव की गिरफ्तारी के लिए सिवान पुलिस कश्मीर जाएगी। अगर उसकी गिरफ्तारी हो जाती है तो पुलिस उसे न्यायालय में प्रस्तुत करेगी, हालांकि हत्याकांड में फरार चल रहे सेना जवान के घर की कुर्की जब्ती पुलिस ने न्यायालय के आदेश पर एक माह पूर्व ही कर लिया है तथा उसके विरुद्ध न्यायालय से लाल वारंट भी जारी हो गया है। बता दें कि इस मामले में मृतक के परिजन कई बार वरीय अधिकारियों से उसकी गिरफ्तारी के लिए आवेदन दिया, लेकिन स्थानीय थानाध्यक्ष द्वारा कोई सार्थक पहल और वरीय अधिकारियों द्वारा भी संज्ञान नहीं लेने के बाद पीड़ित परिजनों ने डीआइजी से मिलकर न्याय की गुहार लगाई।  दर्ज कांड के सूचक सह मृतक के छोटे भाई उपेंद्र यादव ने बताया कि जब हमलोगों को सिवान के वरीय पदाधिकारी से न्याय नहीं मिला तो थक हार कर छपरा डीआइजी के जनता दरबार में गए और वहां जाने के बाद डीआइजी को सारी बातों से अवगत कराया गया तब डीआइजी ने बड़हरिया थाना प्रभारी मुकेश कुमार को दूरभाष पर फटकार लगाते हुए जम्मू-कश्मीर जाने का आदेश दिया। सारण के उप महानिरीक्षक ने ज्ञापांक 2109 दिनांक 11जुलाई 2018 को जारी करते हुए सिवान पुलिस अधीक्षक को पत्रांक 1962 से अवगत कराया है जिससे उप महानिरीक्षक ने साफ तौर पर राज्य से बाहर जाने की अनुमति भी दी है। बता दें कि बड़हरिया बाजार के मिठाई दुकानदार वीरेंद्र कुमार यादव को दुकान से घर जाते समय बाइक सवार अपराधियों ने गोली मारकर 12 अक्टूबर, 17 की देर शाम हत्या कर दी थी। मृतक इसी थाना क्षेत्र के नूरा छपरा गांव का रहने वाला था। उक्त घटना को लेकर मृतक के छोटे भाई उपेंद्र यादव के बयान पर बड़हरिया थाने में अज्ञात के विरुद्ध प्राथमिकी कांड सं. 357/17 दर्ज कराई थी। बाद में पुलिसिया अनुसंधान में घटना को अंजाम देने वाले अपराधियों की पहचान हुई जिसमें मृतक के चचेरा भाई सह  साढू सेना का जवान उमेश कुमार यादव समेत कई लोगों का नाम सामने आया। इस मामले में पुलिस ने जब अपनी कार्रवाई तेज की तो उक्त कांड में पुलिस ने कई को अप्राथमिकी अभियुक्त बनाया। बाद में अप्राथमिकी अभियुक्तों ने जमानत ले ली और एक अप्राथमिकी अभियुक्त को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था, जबकि अनुसंधान के क्रम में अप्राथमिकी अभियुक्त बने मृतक के चचेरा भाई जवान उमेश कुमार यादव लगभग 10 माह
से फरार चल रहा है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

कहां ड्यूटी में तैनात है हत्यारोपित जवान

फरार सेना का जवान उमेश कुमार यादव जम्मू-कश्मीर के इंडियन आर्मी नंबर 14934261 एम 22 मैक्स इम्फेनटरी कमांडेट आॅफिसर 56 एपीओ में कार्यरत है।

कौन-कौन से जाएंगे पदाधिकारी कश्मीर

फरार सेना के जवान उमेश कुमार यादव की गिरफ्तारी के लिए कश्मीर जाने वाले पदाधिकारियों में  बड़हरिया थाने में पदस्थापित पुअनि अरविंद कुमार सिंह,सिपाही सं. 137 धर्मराज, सिपाही सं. 105 अविनाश कुमार शामिल हैं। उक्त पदाधिकारी डीआइजी के आदेश पर कश्मीर के लिए रवाना होंगे। उक्त पदाधिकारी के नामों का विवरण डीआइजी के आदेश में नामित किया है।