हुसैनगंज: कुख्यात अपराधी विश्वकर्मा बिन मामले में एसपी श्री शैलेश कुमार के दिशा निर्देश के आलोक में एसडीपीओ के नेतृत्व में एसआईट टीम का गठन

0

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के हुसैनगंज थाने के बघौनी पंचायत के मुखिया पति एवं कुख्यात अपराधी विश्वकर्मा बिन एवं उसके भांजे अमरजीत बिन के हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए एसडीपीओ श्री जितेंद्र पांडे के नेतृत्व में गठित एसआईटी की टीम छापेमारी कर रही है.बेलवासा गांव के एक प्राथमिकी अभियुक्त दूधनाथ यादव को पुलिस ने गिरफ्तार कर शुक्रवार को जेल भेज दिया.विश्वकर्मा बिन के भाई चंद्रमा बिन ने पुलिस को दिए अपने बयान में आरोप लगाया है कि विश्वकर्मा बिन के साथियों कमलेश यादव,मुमताज आलम,भोला पांडे, गोलू, सोनू, एवं निप्पू ने साजिश के तहत 15 अन्य लोगों के साथ मिलकर हत्या की घटना को अंजाम दिया है.उसने आरोप लगाया है कि बुधवार की रात्रि लगभग 11:00 बजे उसके भाई के साथ रहने वाले मुमताज आलम उर्फ बड़कू मियां सोने के लिए किसी गुप्त स्थान पर चला गए. उसने पुलिस को दिए अपने बयान में कहा है कि गुरुवार की सुबह 6:00 बजे छोटकी बघौनी के मखदूम बाबा के मजार के समीप तीन मुहानी पर उसकी भाई की लाश मिली.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

अमरजीत बिन की लाश एमएच नगर थाने के कबिलपुरा पेट्रोल पंप के समीप मिला. उसने आरोप लगाया है कि आंदर थाना क्षेत्र के दरवेशपुर निवासी निवासी मंसूर मियां का पुत्र मुमताज आलम उर्फ बड़कू मियां, बघौनी गांव निवासी गौहर अंसारी का पुत्र खुर्शीद अंसारी उर्फ मुन्ना मियां, आंदर थाना क्षेत्र के माहपुर निवासी सुफियान अंसारी, छोटकी बघौनी निवासी ईशा मियां,बघौनी गांव निवासी बृज बिहारी यादव का पुत्र अभिषेक यादव उर्फ लालबाबू, बुधन यादव का पुत्र विक्रम यादव, जुम्मी मियां का पुत्र मैनुद्दीन अंसारी, मुराद साई, विश्वनाथ साह का पुत्र पूर्व मुखिया कलेक्टर साह, आंदर थाना क्षेत्र के दाहाबारी निवासी जयनाथ यादव, सिंगही गांव निवासी रोशन साह, सुभाष यादव, बेलवासा गांव निवासी दूधनाथ यादव, सिंगही गांव निवासी पप्पू साह, सिंगही गांव निवासी राजू कुमार यादव, हरदोपट्टी गांव निवासी मनोज बैठा सहित 21 लोगों ने उसके भाई एवं भांजे की एक साजिश के तहत हत्या कर शव को फेंक दिया है.

एसपी ने किया घटनास्थल का मुआयना

सिवान के तेज तर्रार एसपी श्री शैलेश कुमार सिन्हा ने घटनास्थल का मुआयना करने के बाद परिजनों से मिले.उन्होंने हर संभव मदद का भरोसा देते हुए अरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी की बात कही. इसके बाद आंदर थाना क्षेत्र के दूधनाथ यादव के बारें में जानकारी ली. उन्होंने कहा कि गिरफ्तार दूधनाथ यादव के स्वीकृति बयान को गोपनीय रखते हुए पुलिस टीम संदिग्ध ठिकानों पर छापेमारी कर रही है.