नौतन के अंगौता में अपराधियों ने चाकू से गोदकर की फाइनेंस कर्मचारी की हत्या

0

परवेज अख्तर/सिवान : जिले के नौतन थाना क्षेत्र के पचलखी-अंगौता मुख्य मार्ग पर स्थित अंगौता गांव के समीप रविवार की शाम सत्या माइक्रो कैपिटल कंपनी के कम्रचारी की अज्ञात अपराधियों ने चाकू से गोदकर हत्या कर दी। घटना के दो घंटे बाद पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। मृतक की पहचान पूर्वी चम्पारण के हरसिधी थाना क्षेत्र के उज्जैन लोहियार निवासी ऋषिकेश राज के रूप में हुई है। घटना की सूचना मिलते ही घटना स्थल पर एसडीपीओ जितेंद्र पांडेय पहुंचा कर मामले की जांच शुरू कर दी। मिली जानकारी अनुसार ऋषिकेश राज लोन संबंधित कार्य के लिए अंगौता गांव जा रहा था। तभी पचलखी-अंगौता मुख्य मार्ग पर अज्ञात अपराधियों ने लूट की घटना को अंजाम देने की नियत से उसकी चाकू से गोदकर हत्या कर दी।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

इस क्रम में उसके पास रखे टैब व पैसे लेकर फरार हो गए। स्थानीय लोगों की मानें तो अंगौता चंवर में स्थित छठ घाट के समीप पूर्व से घात लगाए बैठे अज्ञात अपराधियों ने उसपर हमला कर जान से मार दिया तथा उसके पास से पैसे, मोबाइल आदि लूट कर फरार हो गए। सड़क किनारे पड़ी बाइक और अचेतावस्था में पड़े युवक को देखकर धीरे धीरे वहां लोगों की भीड़ इकट्ठी हो गई। वहीं किसी ने पुलिस को फोन पर घटना की सूचना दी। सूचना मिलने के लगभग दो घंटे बाद पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। वहीं लूट एवं हत्या की घटना की जांच करने पहुंचे एसडीपीओ जितेंद्र पांडेय ने नौतन थानाध्यक्ष को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। वहीं इस आपराधिक घटना को लेकर पुलिस के प्रति लोगों में काफी आक्रोश व्याप्त है।

सिवान में रहा कर करता था काम :

कंपनी के क्रेडिट मैनेजर विशाल विश्वकर्मा ने बताया कि ऋषिकेश राज सहित कंपनी के जितने भी स्टॉफ है। वें सभी एक साथ नगर थाना क्षेत्र के लक्ष्मीपुर स्थित तुलसी नगर में रहते है। उसी के नजदीक ऑफिस भी है। रविवार की सुबह दोनों एक ही बाइक से ऑफिस गए हुए थे। बाजार में काम करने के बाद वह मुझे ऑफिस छोड़ने की बात कहा। लेकिन जाम की वजह से हमने उसको वहीं छोड़ दिया। इसके बाद ऋषिकेश अंगौता चला गया। वहीं मामले में एसडीपीओ ने बताया कि चाकू मारकर हत्या की गई है। घटनास्थल से बाइक की बरामदगी की गई है, लेकिन टैब नहीं मिला है। सभी बिंदुओं पर मामले की जांच की जा रही है।

अंगौता में ही दिखा रखा टैब का लाकेशन :

मैनेजर अजीत कुमार पांडेय ने बताया कि जिस टैब को अपराधियों ने छीना है, उसका लोकेशन घटना के बाद अंगौता ही दिखा रहा है।