हत्याकांड में अपराधियों का सुराग हासिल करने में दरौंदा पुलिस विफल

0
  • अबतक एफआईआर दर्ज नहीं हो सकी
  • ग्रामीणों व परिजनों से की गयी पूछताछ

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के दरौंदा थाना क्षेत्र के कंगाली छपरा में देवशरण सिंह हत्याकांड के उद्भेदन के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है। पुलिस हत्या करने वाले दोनों अपराधियों का सुराग हासिल करने के लिए मोबाइल लोकेशन व कॉल डिटेल्स निकालने का प्रयास कर रही है। लेकिन विफल साबित हुई है। पुलिस का मानना है कि यदि हत्या जमीन के विवाद को लेकर हुई है तो कॉल डिटेल्स का सहारा लेना अनिवार्य है। पुलिस अपराधियों के आने व जाने के लिए चुने गए रास्ते पर भी नजर बनाए हुए है। हत्या करने के लिए अपराधी जिस पल्सर बाइक से आए थे। वह बाइक किसकी है सहित कई बिंदुओं पर पुलिस गम्भीरता से जांच कर रही है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

परिजनों से पूछताछ के बाद पुलिस ने ग्रामीणों से भी पूछताछ की। अलग-अलग ग्रामीणों से इस हत्या को लेकर जानकारी हासिल की गई। अपराधियों की हुलिया, उम्र, कद-काठी, रंग की जानकारी भी स्थानीय लोगों से ली गई। दोनों अपराधियों की पहचान करना पुलिस के लिए सबसे बड़ी चुनौती है। पुलिस देवशरण सिंह के परिजनों की निशानदेही पर भी जांच कर रही है। शनिवार को हत्या के बाद पुलिस ने तीन महिलाओं को हिरासत में लिया। तीनों महिलाओं से पुलिस हत्या का सुराग हासिल करने का प्रयास कर रही है। अभी तक इस मामले में एफआईआर दर्ज नहीं हुई है। थानाध्यक्ष ने बताया कि परिजन जैसे ही आवेदन देंगे एफआईआर दर्ज कर ली जाएगी।