तरवारा के जगदीशपुर: अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की तरह सिवान पुलिस खोजी कर रही है गोली के शिकार देवी लाल यादव की

0
  • जब अपराधियों ने देवीलाल को मारी है गोली तो पुलिस के समक्ष आकर फर्द बयान देने में क्यों हो रही है देरी ?
  • सदर अस्पताल के चिकित्सक ने माना सस्पेक्टेड फायरिंग
  • कहीं गोरेयाकोठी में होने वाले पंचायती चुनाव के दरमियान कोई साजिश तो नहीं रच रहा था घायल देवी लाल यादव ?

✍️परवेज अख्तर/एडिटर इन चीफ:
शुक्रवार की रात से रविवार की दोपहर तक गोरेयाकोठी थाना क्षेत्र के जगदीशपुर बाजार में हुई घटना को लेकर अभी भी क्षेत्रों में तरह-तरह के अटकलों का बाजार गर्म है,लोग जितनी मुंह उतनी बातें करने से परहेज नहीं कर रहे हैं,यहां बताते चलें कि जीबी नगर थाना क्षेत्र के बहादुरपुर गांव निवासी अम्बिका यादव का 28 वर्षीय पुत्र देवीलाल यादव द्वारा शुक्रवार की रात्रि में यह शोर मचाया गया है कि जगदीशपुर बाजार में बाइक पर सवार अपराधियों ने मुझे गोली मार दी है,इस घटना को लेकर परिजन सकते में आ गए और उसे आनन-फानन में शुक्रवार की रात करीब 11 बजे प्राथमिक उपचार हेतु सिवान सदर अस्पताल में भर्ती कराया,जहां ड्यूटी पर तैनात चिकित्सा पदाधिकारी डॉ रजनीकांत तिवारी ने घायल का इलाज शुरू किया तथा अपने रजिस्टर्ड में डॉ रजनी कांत तिवारी द्वारा सस्पेक्टेड फायरिंग का जिक्र करते हुए अंकित किया है,बाद में उसे सदर अस्पताल से रेफर किया गया लेकिन शुक्रवार की मध्यरात्रि से रविवार की दोपहर बाद तक घायल देवीलाल यादव पीएमसीएच नहीं पहुंचा सका है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

वहीं इस घटना को लेकर अभी तक उसके परिजनों ने आगे की कार्रवाई हेतु स्थानीय पुलिस को किसी भी प्रकार का कोई लिखित आवेदन नहीं दिया गया है,गांव तथा आसपास के इलाके में ऐसी चहूओर चर्चाएं हो रही है कि अभी गोरेयाकोठी प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न पंचायतों में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव होना बाकी है,जिसमें एक बहुत बड़ी साजिश घायल देवीलाल यादव द्वारा रची जा रही थी,कुछ लोगों का कहना है कि वह किसी बड़े घटना को अंजाम देने के लिए भारी मात्रा में विस्फोटक सामान लेकर आ रहा था,इस दरमियान जगदीशपुर बाजार में उसका विस्फोटक सामान विस्फोट कर गया,जिससे वह घायल हो गया है,वहीं इस घटना को लेकर गांव व आसपास के इलाकों में तरह-तरह की चर्चाएं खूब हो रही है,लोग जितनी मुंह उतनी बातें करने से परहेज नहीं कर रहे हैं, सच्चाई का उजागर तब होगा कि जब परिजनों या पीड़ित द्वारा किसी भी प्रकार का लिखित आवेदन स्थानीय थाने को सुपुर्द की जाएगी,और पुलिस द्वारा प्राप्त आवेदन के आलोक में प्राथमिकी दर्ज कर जब अनुसंधान प्रारंभ करेगी.

ILAJ JARI

तब जाकर घटना से पर्दा उठेगा,अभी भी स्थानीय पुलिस को घायल देवीलाल यादव की तलाश जारी है,पुलिस उसे अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की तरह तलाश कर रही है,लेकिन घायल देवीलाल यादव कहां छिप कर इलाज करा रहा है वहां तक पहुंचना पुलिस के लिए टेढ़ी खीर साबित हो रही है। कुछ लोगों का कहना है कि घायल देवीलाल यादव जो शहर के चर्चित नर्सिंग होम में अपना इलाज करा कर चला गया है लेकिन पुलिस जगत के आला अधिकारियों को यह समझ में नहीं आ पा रही है कि आखिर जब देवीलाल यादव को अपराधियों द्वारा गोली मारी गई है तो वह किसी भी प्रकार का लिखित आवेदन देने से क्यों कतरा रहा है,इस घटना के पीछे का राज क्या है ?बहरहाल चाहे जो हो इस घटना में सही तथ्यों का उजागर तब होगा की जब घायल या परिजनों द्वारा किसी भी प्रकार का आवेदन स्थानीय पुलिस को सुपुर्द की जाएगी और प्राथमिकी दर्ज के बाद अनुसंधान में दूध का दूध और पानी का पानी होना संभव माना जा रहा है।