कोविड-19 की वैक्सीन है सभी के लिए सुरक्षित

0
  • निदेशक, ड्रग्स कंट्रोलर ने दी जानकारी
  • तीन वैक्सीन को दी गयी है परीक्षण की अनुमति
  • आपात स्थिति में वैक्सीन लगाने की दी गयी है अनुमति

छपरा: कोरोनावायरस के संक्रमण से बचाव के लिए लोग गाइडलाइन का पालन कर रहे हैं और अपने स्तर पर जरुरी सावधानियां बरत रहे हैं. अब लोगों की उम्मीद कोरोनावायरस के टीके पर जिसका टीका नववर्ष में लगना प्रारंभ हो जाएगा. कोविड-19 टीकाकरण चरणवार होगा और स्वास्थ्य विभाग एवं राज्य सरकार इसके लिए समुचित व्यवस्था कर चुकी है. कोविड-19 के लिए चयनित टीकों और उनकी विश्वशनीयता के बारे में मीडियाकर्मियों को निदेशक, ड्रग्स कंट्रोलर ने प्रेस वार्ता के माध्यम से जानकारी दी.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

कोविड-19 की वैक्सीन है सभी के लिए सुरक्षित

प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए निदेशक, ड्रग्स कंट्रोलर डॉ.बी.जी.सोमानी ने बताया कोविड-19 टीकाकरण के लिए चयनित वैक्सीन जल्दी ही उपलब्ध करायी जाएगी. सरकार द्वारा तीन वैक्सीन को कोविड टीकाकरण के लिए चयनित किया गया है और ये सभी वैक्सीन ट्रायल के विभिन्न चरणों में है.

तीन वैक्सीन को दी गयी है परिक्षण की अनुमति

डॉ. सोमानी ने बताया केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन (सीडीएससीओ) की विषय विशेषज्ञ समिति (एसईसी) ने मैसर्स सीरम इंस्टीीट्यूट ऑफ इंडिया और मैसर्स भारत बायोटेक इंटरनेशनल लिमिटेड की त्वरित स्वीकृति प्रक्रिया साथ ही साथ मैसर्स कैडिला हैल्थ केयर लिमिटेड के चरण– 3 परीक्षणों से संबंधित अनुरोध के संदर्भ में सिफारिश की. उन्होंने बताया सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंडिया की वैक्सीन ”कोविशिल्ड” जिसे एस्ट्रा जेंका और ऑक्सफ़ोर्ड विश्वविद्यालय के सहयोग से तैयार किया गया है उसका सफलता प्रतिशत करीब 70.42 है और इसके दोनों चरण के ट्रायल के नतीजे उत्साहवर्धक हैं. इस वैक्सीन के ट्रायल के नतीजे बताते हैं कि यह वैक्सीन विश्व में तैयार किये जा रहे किसी भी वैक्सीन से गुणवत्ता में कम नहीं है. इस वैक्सीन के 2 डोज लेने होंगे.

डॉ. सोमानी ने बताया भारत बायोटेक द्वारा विकसित की जा रही वैक्सीन “ कोवेक्सिन” के नतीजे भी उत्साहवर्धक हैं और इसके इस्तेमाल से प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि देखी जा रही है. इस वैक्सीन का ट्रायल सर्वप्रथम चूहों, खरगोश आदि पर किया गया और अब करीब 22,000 लोगों पर इसका ट्रायल किया जा चुका है. इस वैक्सीन के 800 से ज्यादा ट्रायल किये गए हैं और नतीजे सकारात्मक आये हैं. इस वैक्सीन के भी 2 डोज लेने होंगे. कैडिला हेल्थकेयर की वैक्सीन का ट्रायल भी अन्तम चरण में है और इसे करीब 26,000 लोगों पर टेस्ट करने का कार्य चल रहा है.

सभी वैक्सीन 2 से 8 डिग्री तापमान पर की जाएगी स्टोर

डॉ. सोमानी ने बताया तीनो चयनित वैक्सीन को 2 से 8 डिग्री तापमान पर स्टोर किया जायेगा जिससे यह सुरक्षित रह सकेगी.