चेकिंग कर रहे दारोगा को उठा ले गए शराब तस्कर, कहा- गिरफ्तार करने की कोशिश की तो…

0

पटना: बिहार में शराबबंदी कानून को लेकर सरकार काफी सख्त है. जिसको सफल बनाने के लिए चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है. इसी क्रम में एक मामला सामने आया है जहां चेकिंग कर रहे उत्पाद विभाग के दारोगा लालू कुमार को शराब तस्कर अपने साथ उठा ले गए।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

बता दें भागलपुर के विक्रमशिला पुल जाने वाले पहुंच पथ का है. जहां बुधवार को शराबबंदी सफल बनाने के लिए चेकिंग अभियान चलाया गया. इसी दौरान उत्पाद विभाग के दारोगा को शराब तस्कर अपने साथ उठा ले गए. इसके बाद तस्करों ने दारोगा को तेतरी जीरोमाइल के पास लेजाकर छोड़ दिया. बताया जा रहा है जाम के चलते उन्होंने यहां छोड़ दिया।

दारोगा लालू कुमार ने बताया कि गाड़ी में बैठाने के बाद तस्करों ने उसे जान से मारने की धमकी दी और कहा कि अगर दोबारा उन्हें गिरफ्तार करने की कोशिश की तो अपहरण कर लेंगे. सभी शराब तस्कर सहरसा और सुपौल के रहने वाले थे. जिसमें से एक की पहचान हो गई है. जिसका नाम दुर्गा चौधरी सुपौल का रहने वाला है. वही दारोगा को उठा ले जाने की खबर से पूरे महकमे में हड़कंप मच गया. दूसरी तरफ घटना की सूचना मिलते ही बैकअप टीम ने तस्करों का काफी दूर तक पीछा भी किया लेकिन वे भागने में सफल हो गए. इस मामले में किसी प्रकार का केस दर्ज नहीं कराया गया है. उधर बरारी पुलिस को घटना की सिर्फ मौखिक जानकारी ही दी गई है।

सूत्रों के अनुसार जिस शराब तस्कर को उत्पाद विभाग ने उस दिन गिरफ्तार किया था. उसी ने सूचना दी थी कि इसी मार्ग से उसके सहयोगी भी जाएंगे. इसी क्रम में लोदीपुर के पास उत्पाद विभाग की टीम ने दिल्ली नंबर की एक कार से 123 लीटर शराब बरामद की थी. मौके से टीम ने गाड़ी के ड्राइवर सहरसा निवासी रंजीत कुमार को गिरफ्तार किया था. रंजीत ने ही पूछताछ में बताया था कि धंधे का सरगना समेत तीन शराब तस्कर आगे पिकअप वैन में उसे एस्कार्ट कर रहे थे।