सिवान के नौतन में श्रम कानून खत्म करने के विरुद्ध माले का धरना

0
dharna

परवेज अख्तर/सिवान :- सरकार द्वारा श्रम कानून को खत्म करने के विरोध में माले कार्यकर्ताओं द्वारा काली पट्टी लगाकर विरोध दिवस मनाया गया, जिसका असर नौतन प्रखंड के विभिन्न पंचायतों में देखने को मिला । बता दें कि सरकार द्वारा नयी नीति के अनुसार अब मजदूरों से आठ घंटे की जगह बारह घंटे काम लिया जाएगा, जिससे मजदूरों का दोहन किया जाएगा ।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 9.29.39 PM

भारत के कई राज्यों ने लॉकडाउन के बाद श्रमिकों की कमी का सामना करने के बाद फैक्ट्रीज़ एक्ट, 1948 के प्रावधानों में ढील दी है और मजदूरों के काम के घंटे बढ़ा दिए हैं, जिसके तहत प्रत्येक 12 घंटे की दो शिफ्ट में मजदूरों को काम करने की अनुमति दे सकते हैं। ऐसे में मजदूरों को मिलने वाली मजदूरी के बारे में अभी बात साफ नहीं हुई है। जो भी हो सभी तरह से मजदूर वर्ग का ही शोषण होगा, जिसका विरोध माले ने देशव्यापी स्तर पर किया ।

इस दौरान भाकपा माले नेत्री एवं जिला पार्षद सोहिला गुप्ता के नेतृत्व में प्रखंड के ठाकुर के रामपुर में तथा प्रखंड सदस्य एवं मुरारपट्टी पंचायत के सचिव मदन यादव के नेतृत्व में बरईपट्टी गाँव सहित प्रखंड के कई पंचायतों में विरोध दिवस मनाया गया। धरने में दीनदयाल बीन, सतीश कुमार राम, मैना देवी गोपाल सिंह, चंद्रावती देवी सहित अन्य लोग शामिल हुए ।