छपरा: मामी ने दीवार में सिर पटक कर ले ली ढाई साल के अंशू की जान, डाइनिंग टेबल के अंदर कार्टून में पैक मिली लाश

0

छपरा : रिश्ते को शर्मसार कर देने वाला एक मामला छपरा के दाउदपुर से सामने आया है. जहां एक मामी ने अपने ढाई साल के भांजे की दीवार में सिर पटक कर जान ले ली और इस कृत्य को छुपाने के लिए शव को कार्टून में पैक कर डायनिंग टेबल के अंदर छुपा दिया. मामले की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. वहीं आरोपी मामी माला देवी को गिरफ्तार कर लिया गया है.। मिली जानकारी के अनुसार बताया जाता है कि ढाई साल के अंशू की मां प्रतिमा ने एक सप्ताह पहले ही अपने दूसरे बेटे को जन्म दिया था और वह अभी अस्पताल में भर्ती है. इसी दौरान वह अपने बेटे को अपने मायके में छोड़ दिया था. इसी बीच मामी ने ननद से इर्ष्या में अंशु को मार डाला. थाने में दर्ज FIR के मुताबिक माला देवी ने ईर्ष्या में उसकी हत्या की है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

माला को एक महीने पहले बेटी हुई थी। बताया जा रहा है कि अंशू की मामी माला ने एक महीने पहले बेटी को जन्म दिया था. वहीं उसकी नदद प्रतिमा को दूसरी बार भी बेटा हुआ और इसी कारण ईष्या में माला ने अपने भांजे की जान ले ली. बताया जा रहा है कि ढाई साल का अंशु गुरुवार की शाम चार बजे से ही लापता था. माला ने शोर मचाया कि अंशू का कोई पता नहीं चल रहा है. आस-पास के लोग जमा हो गए और उसकी तलाश करके थक गए पर अंशू का कोई पता नहीं चल पाया. मामला पुलिस में पहुंचा और मौके पर पहुंची पुलिस ने जब घर में तलाशी लेनी शुरू की तो अंशू का शव उसके ही घर में कार्टून में पैक मिला. जिसके बाद जब माला से पुलिस ने पूछताछ शूरू की तो वह टूट गई और बताया कि एक माह पहले उसने बेटी को जन्म दिया है. अंशु ने ऑपरेशन वाली जगह पर चोट लगा दी थी, जिसके बाद उसने अंशु को धक्का दे दिया. इससे अंशु दीवार से जा टकराया और उसके सिर से खून निकलने लगा. डर के कारण उसने अंशु को कार्टून में बंद कर दिया. वहीं पुलिस ने आरोपी मामी को गिरफ्तार कर लिया है.