जिले में चलेगा मिशन परिवार विकास अभियान, सामुदायिक स्तर पर लोगों को किया जायेगा जागरूक

0
  • 5 सितंबर से चलेगा परिवार नियोजन पखवाड़ा
  • पखवाड़े का दो चरणों में होगा आयोजन
  • योग्य दम्पति को परिवार नियोजन के साधन को अपनाने के लिए प्रेरित किया जाएगा

छपरा: परिवार नियोजन के साधनों के इस्तेमाल और इसे लेकर जागरूकता फैलाने का काम सरकार एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा निरंतर किया जा रहा है| इसी क्रम में जिले में 5 सितंबर से मिशन परिवार विकास अभियान के तहत परिवार नियोजन पखवाड़ा का शुभारंभ होगा। जिसके सफल क्रियान्वयन के लिए जरूरी तैयारी शुरू कर दी गई है। इस सन्दर्भ में कार्यपालक निदेशक, राज्य स्वास्थ्य समिति, बिहार संजय कुमार सिंह ने सभी सिविल सर्जन को पत्र जारी कर आवश्यक निर्देश दिए हैं।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2023-10-11 at 9.50.09 PM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.50 AM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.51 AM
ahmadali
WhatsApp Image 2023-11-01 at 2.54.48 PM

दो चरणों में संपादित किया जायेगा अभियान:

जारी पत्र में बताया गया है कि पखवाड़ा दो चरणों में आयोजित होगा, जिसका 24 सितंबर को समापन होगा। इस दौरान पखवाड़े की सफलता को लेकर जिले भर में विभिन्न प्रकार के कार्यक्रमों का आयोजन कर सामुदायिक स्तर पर लोगों को जागरूक और योग्य दम्पति को परिवार नियोजन के साधन को अपनाने के लिए प्रेरित किया जाएगा । ताकि एक भी योग्य लाभार्थी पखवाड़े की सुविधा से वंचित नहीं रहें और अधिकाधिक लाभार्थी लाभान्वित हो सकें । वहीं, पखवाड़े के सफल संचालन सुनिश्चित करने को लेकर केयर इंडिया, डब्ल्यूएचओ, आईसीडीएस समेत अन्य सहयोगी स्वास्थ्य संगठनों का भी सहयोग लिया जाएगा।

11 सितंबर तक चलेगा दम्पति संपर्क पखवाड़ा:

जारी पत्र में निर्देशित है कि 5 से 24 सितंबर तक जिले भर में मिशन परिवार विकास अभियान के तहत परिवार नियोजन पखवाड़ा का आयोजन होगा। इस दौरान 05 से 11 सितंबर तक जिले भर में दम्पति संपर्क पखवाड़ा का आयोजन किया जाएगा। जिसके तहत सामुदायिक स्तर पर लोगों को जागरूक और योग्य दम्पति को परिवार नियोजन के साधन को अपनाने के लिए प्रेरित किया जाएगा। जबकि, 12 से 24 सितंबर तक जिले के सभी स्वास्थ्य संस्थानों में परिवार नियोजन शिविर का आयोजन किया जाएगा। जिसके तहत योग्य लाभार्थियों को महिला बंध्याकरण और पुरुष नसबंदी की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।

ई-रिक्शा के माध्यम से प्रचार-प्रसार कर सामुदायिक स्तर पर लोगों को किया जाएगा जागरूक:

पखवाड़े के दौरान ई-रिक्शा के माध्यम से जिले भर में जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। जिसके माध्यम से जिले के सभी प्रखंडों में एक-एक गाँव से लेकर टोले-मोहल्ले तक परिवार नियोजन का संदेश पहुँचाया जाएगा और सामुदायिक स्तर पर लोगों को जागरूक किया जाएगा। इस दौरान परिवार नियोजन के साधन को अपनाने से होने वाले फायदे समेत अन्य आवश्यक जानकारी भी दी जाएगी।

अस्थाई व स्थाई उपायों की दी जाएगी जानकारी:

जागरूकता अभियान के दौरान लोगों को अस्थाई एवं स्थाई परिवार नियोजन की जानकारी दी जाएगी । ताकि कोई महिला परिवार नियोजन के स्थाई साधन को अपनाने के लिए तैयार है, किन्तु उनका शरीर बंध्याकरण के लिए सक्षम नहीं तो ऐसी महिला अस्थाई साधन को अपना सके। साथ ही परिवार नियोजन के लिए सरकारी स्वास्थ्य संस्थानों में उपलब्ध सुविधा एवं सेवाओं की भी जानकारी दी जाएगी।